Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल में अब 56 बीमारियों के टेस्ट फ्री करवा सकेंगे मरीज, इन अस्पतालों में मिलेगी यह सुविधा

हिमाचल प्रदेश के सरकारी अस्पताल (Government Hospital) में जयराम सरकार (Jairam Sarkar) ने 56 टेस्ट फ्री कर दिए हैं। बता दें कि प्रदेश के सभी अस्पतालों में यह सुविधा उपलब्ध रहेगी। सरकार के इस फैसले के बाद से लोगों में खुशी हैं।

हिमाचल में अब 56 बीमारियों के टेस्ट फ्री करवा सकेंगे मरीज, इन अस्पतालों में मिलेगी यह सुविधा
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश के सरकारी अस्पताल (Government Hospital) में जयराम सरकार (Jairam Sarkar) ने 56 टेस्ट फ्री कर दिए हैं। बता दें कि प्रदेश के सभी अस्पतालों में यह सुविधा उपलब्ध रहेगी। सरकार के इस फैसले के बाद से लोगों में खुशी हैं। सरकारी अस्पतालों इससे पहले केवल 11 तरह की श्रेणी में आने वाले मरीजों (Patients) को ही सुविधा का लाभ मिलता था। लेकिन अब प्रदेश में सभी तरह के मरीजों के टेस्ट फ्री में होंगे। बता दें कि आठ अक्तूबर, 2018 को एनएचएम (NHM) की ओर से आदेश जारी किए गए थे कि 11 विभिन्न श्रेणियों में आने वाले मरीजों को अस्पताल (Hospital) में 56 तरह के टेस्ट फ्री किए जाएंगे।

इनको मिलेगा लाभ

इन 11 श्रेणियों में कैंसर के मरीज (Cancer patients), ट्यूबरक्लोसिस से ग्रसित, एचआईवी से ग्रसित, बीपीएल परिवार, एमएलसी व एक्सीडेंट केस, 60 साल से ऊपर के मरीज, गर्भवती महिलाएं, आरबीएसके प्रोग्राम, 40 प्रतिशत से ज्यादा अपंग मरीजों के लिए 56 तरह के टेस्ट सरकारी अस्पतालों में फ्री किए गए थे, लेकिन अब एनएचएम (NHM) ने ये टेस्ट सभी मरीजों के लिए फ्री कर दिए हैं। इन 56 टेस्टों का मरीजों को किसी तरह का शुल्क अदा नहीं करना होगा। राज्य के सरकारी अस्पतालों में जब भी मरीजों को उपचार के लिए लाया जाता है, तो उन्हें कई बार इस तरह के टेस्ट भी करवाने पड़ जाते हैं, जिसका बिल उन्हें बाद में छुट्टी के समय अदा करना होता है, लेकिन अब ये सभी तरह के टेस्ट फ्री होंगे।

ये टेस्ट होंगे फ्री

आपको बात दें कि क्लीनिक पेथोलॉजी (Clinic Pathology) में 17 तरह के टेस्ट किए जाते हैं। इसमें विभिन्न तरह के टेस्ट होते हैं जो फ्री होंगे। बायो कैमेस्ट्री (Bio chemistry) में भी 20 तरह के टेस्ट फ्री किए जाते हैं। इसमें ब्लड शुगर, यूरिक एसिड, कोलेस्ट्रोल समेत अन्य तरह के टेस्ट होते हैं। सिरियोलॉजी (Syrology) में नौ तरह के टेस्ट होते हैं। इसमें एचआईवी, डेंगू, मलेरिया समेत अन्य तरह के टेस्ट होते हैं। इसके अलावा माइक्रोबायॉलोजी/पेथोलोजी (Microbiology / pathology) में भी तीन तरह के टेस्ट फ्री होंगे। यूरियन एनालिसिस में तीन, स्टूल एनालिसिस में एक, रेडियोलॉजी में भी एक और कॉर्डियोलॉजी में एक टेस्ट फ्री किया जाएगा। हांलाकि अगर इससे अलग भी किसी का टेस्ट होगा तो उसे उसका पैसा देना होगा।

Next Story