Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रदेश में निकली NHM में बंपर भर्तियां, CHO के इतने पद हैं खाली

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में एनएचएम (NHM) की बंपर भर्तियां निकली हैं। बता दें कि प्रदेश सरकार ने प्रदेश के युवाओं के लिए 940 पदों पर भर्तियां निकाली हैं। आपको बता दें कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में एक साथ कम्यूनिटी हेल्थ अफसर (सीएचओ) के 940 पद भरे जा रहे हैं।

पदेश में निकली NHM में बंपर भर्तियां, CHO के इतने पद हैं खाली
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में एनएचएम (NHM) की बंपर भर्तियां निकली हैं। बता दें कि प्रदेश सरकार ने प्रदेश के युवाओं के लिए 940 पदों पर भर्तियां निकाली हैं। आपको बता दें कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में एक साथ कम्यूनिटी हेल्थ अफसर (सीएचओ) के 940 पद भरे जा रहे हैं। आवेदन की अंतिम तिथि 21 जून है। आवेदन करने वाले अभ्यर्थी (Candidate) के पास ब्रिज प्रोग्राम फॉर सर्टिफिकेट इन कम्यूनिटी हेल्थ का डिप्लोमा होना जरूरी है। यह डिप्लोमा बीएससी नर्सिंग (Diploma B.Sc Nursing) के बाद होना चाहिए या फिर इंटरग्रेटिड कोर्स ऑफ मिड लेबल हेल्थ प्रोवाइडर बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) के बाद होना अनिवार्य है।

एनएचएम से मिली जानकारी के मुताबिक इन अफसरों की तैनाती फील्ड में होगी। प्रदेश में कोरोना काल में एनएचएम के पास स्टाफ कम है। ऐसे में इन अफसरों को सैंपल लेने फील्ड में भेजा जाएगा। प्रदेश में कोरोना की संभावित तीसरी लहर की तैयारियों को लेकर प्रदेश सरकार (State Government) ने कमर कस ली है। हालांकि नर्सों ने भर्ती के लिए रखी गईं शर्तों का विरोध किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, श्रेणीवार इतनी सीटें रखी गई रिजर्व जनरल के लिए 396, एससी के लिए 176, एसटी के लिए 34, ओबीसी (OBC) के लिए 142 सीटे रखी गई हैं। फ्रीडम फाइटर कोटे से सामान्य वर्ग के लिए 11, एससी 6, ओबीसी के लिए 5, आईआरडीपी में सामान्य वर्ग के लिए 91, एससी के लिए 34, एसटी 11 और ओबीसी के लिए 34 सीटें रिजर्व हैं।

बता दें कि एनएचएम की ओर से जारी अधिसूचना में जो योग्यता इन पदों के लिए अंकित है, उसके विरोध में नर्सों ने एनएचएम के मिशन निदेशक को पत्र लिखा है। नर्सों का कहना है कि जो शर्तें लगाई गई हैं, वे आर्टिकल 14 और 16 का उल्लंघन हैं। इसमें ये भी हवाला दिया गया है कि जब 2019-2020 में एनएचएम हिमाचल प्रदेश ने 500 से ज्यादा कम्यूनिटी हेल्थ अफसर के पद भरे थे। जिन्हें एचएलएल कंपनी के माध्यम रखा था, लेकिन उस समय ऐसी कोई शर्त नहीं थी। ऐसे में एनएचएम को पुराने तरीके से इन पदों की भर्ती करनी चाहिए।

Next Story