Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Covid-19: हिमाचल प्रदेश के बड़े मंदिरों में प्रवेश पर सरकार ने लगाई रोक

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश सरकार (state Government) ने कई तरह की पाबंदियां लगा रखी हैं। कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सीएम जयराम ठाकुर (Cm Jairam thakur) ने सख्त निर्णय लिए हैं।

Covid-19: प्रदेश के बड़े मंदिरों में प्रवेश पर सरकार ने लगाई रोक
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश सरकार (state Government) ने कई तरह की पाबंदियां लगा रखी हैं। कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सीएम जयराम ठाकुर (Cm Jairam thakur) ने सख्त निर्णय लिए हैं। जिनमें सभी बड़े मंदिरों में श्रद्धालुओं के आने पर रोक शामिल है। आज से इन मंदिरों में केवल पूजा-अर्चना की अनुमति होगी।

बता दें कि यह जानकारी सीएम ने ने शहरी स्थानीय निकायों के सदस्यों से कोविड-19 की स्थिति का जायजा लेते हुए दी। उन्होंने कहा कि सरकार ने शनिवार और रविवार को सभी कार्यालयों को बंद रखने की घोषणा की है। बसें 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चलेंगी और सभी धार्मिक, सामाजिक और अन्य समारोहों में केवल 50 लोगों की उपस्थिति की अनुमति होगी।

वहीं उन्होंने कहा कि सभी चयनित प्रतिनिधियों का कर्तव्य है कि वे सरकार द्वारा समय-समय पर जारी की गई मानक संचालन प्रक्रियाओं और दिशा-निर्देशों का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। इस बार कोरोना न केवल अधिक तीव्र गति से फैल रही है बल्कि अधिक जानलेवा बन गई है। पिछले दो महीनों में कोविड के मामलों और मृत्यु दर में तीव्र वृद्धि हुई है। प्रदेश में अब तक कोरोना से 1223 लोगों की मौत हो चुकी है।

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य के औद्योगिक क्षेत्रों में बेहतर निगरानी सुनिश्चित करने के लिए उचित कदम उठाए जाने चाहिए ताकि प्रवासी मजदूरों को संक्रमण से बचाया जा सके। शहरों और नगर निगमों की नियमित सेनिटाइजेशन करने के अलावा यह भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए सामाजिक कार्यक्रमों में 50 से अधिक लोग शामिल न हों।

उन्होंने बताया कि सरकार नगर निगमों को इस महामारी से लड़ने के लिए आवश्यक सहयोग प्रदान करेगी। उन्होंने जन प्रतिनिधियों से लोगों को टीकाकरण के लिए आगे आने के लिए प्रेरित करने को कहा। वृद्धजन और दिव्यांगों को टीकाकरण केन्द्रों तक पहुंचने में सहायता प्रदान की जानी चाहिए ताकि उन्हें कोविड-19 की खुराक समय पर दी जा सके।

Next Story