Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सोने के भाव बिक रहा आलू, यहां किसान हो जाएंगे मालामाल

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में आलू की फसल करने वाले किसान इस बार मालामाल हो जाएंगे। आपको बता दें कि लाहौल स्पीति जिले (Lahaul spiti District) के आलू की डिमांड सबसे अधिक होती है।

सोने के भाव बिक रहा आलू, यहां किसान हो जाएंगे मालामाल
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में आलू की फसल करने वाले किसान इस बार मालामाल हो जाएंगे। आपको बता दें कि लाहौल स्पीति जिले (Lahaul spiti District) के आलू की डिमांड सबसे अधिक होती है। बता दें कि लाहौल स्पीति के आलू (Patoto) की कीमत बाजार में 4 हजार रुपये प्रति क्विंटल तक मिल रही है। एशिया की दूसरी सबसे बड़ी सोसाइटी कही जाने वाली लाहौल पॉटेटो सोसायटी (Lahaul Patoto Society) के चेयरमैन सुदर्शन जस्पा ने मनाली में एक पत्रकारवार्ता में यह जानकारी दी।

पॉटेटो सोसायटी के चेयरमैन सुदर्शन जस्पा ने कहा कि नई प्रबंन्धन समिति ने डूबती नैया को पार लगाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि इतिहास में पहली बार लाहौल के किसानों को कुफरी चंद्रमुखी, कुफरी ज्योति और कुफरी हिमानी प्रजाति 4000 रुपए प्रति क्विंटल, सन्थाना 2800 रुपये प्रति क्विंटल, जबकि खाने के लाल आलू की कीमत 2400 रुपये तय है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, लाहौल के किसानों को सोसायटी के कामकाज के लिए मनाली नहीं आना पड़ेगा। सोसायटी कारगा में ही अपना दफ्तर खोलने जा रही है। जस्पा ने बताया कि एलपीएस पिछले कई साल से लगातार अपनी साख को खो रहा था और अब नई प्रबंधन समिति आगे बढ़ाने के लिए लगातार संघर्ष कर रही है। सोसायटी ने कोविड़ काल मे भी बेहतर प्रयास कर किसानों को पहली बार आलू की फसल के उम्दा दाम दिए हैं। पहली बार सोसायटी प्राइवेट कपंनियों की अपेक्षा आलू के बेहतर दाम देने में सफल रही है।

घाटे में चल रही सोसायटी की भरपाई को कड़े कदम उठाए जा रहे है। उन्होंने कहा कि किसानों के हित सोसायटी के लिए सर्वोपरि है। घाटे में चल रहे सभी प्रोजेक्ट को गम्भीरता से लिया जा रहा है। बोर्ड के सभी सदस्यों ने किसानों की सहमति से घाटे में चल रहे होटल चंद्रमुखी को बंद कर अस्पताल के लिए 42 लाख प्रति वर्ष किराये पर दे दिया है और इससे सोसायटी को लाभ हुआ है।

Next Story