Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिलासपुर जिले में बनेगा शीशे का पैदल पुल, जल्द शुरू होगा सर्वेक्षण

हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले (Bilaspur district) के विश्वविख्यात शक्तिपीठ श्रीनयनादेवी (Sree Nayana Devi) में विदेशी मॉडल की तर्ज पर ग्लास स्काई वॉक ब्रिज (Glass Bridge) बनाया जाएगा।

बिलासपुर जिले में बनेगा शीशे का पैदल पुल, जल्द शुरू होगा सर्वेक्षण
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले (Bilaspur district) के विश्वविख्यात शक्तिपीठ श्रीनयनादेवी (Sree Nayana Devi) में विदेशी मॉडल की तर्ज पर ग्लास स्काई वॉक ब्रिज (Glass Bridge) बनाया जाएगा। मंदिर न्यास की बैठक में अप्रूवल मिलने के बाद अब जल्द ही इसका सर्वेक्षण शुरू हो जाएगा। आपको बता दें की यह ब्रिज करोड़ों की लागत से तैयार होगा। ब्रिज से पंजाब व भाखड़ा डैम का लुत्फ उठाया जा सकेगा।

पर्यटक श्रद्धालुओं के लिए यह एक अलग तरह का एडवेंचर होगा। अभी तक देश में बिहार के राजगीर और सिक्किम में ही इस तरह के ब्रिज बने हैं। हिमाचल (Himachal pradesh) में बनने वाला यह देश का ऐसा तीसरा ग्लास स्काई वॉक ब्रिज होगा। मंदिर न्यास श्रीनयनादेवी (Sree Nayana Devi) के आयुक्त एवं जिलाधीश बिलासपुर (Bilaspur district) रोहित जम्वाल ने खबर की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि ग्लास स्काई वॉक ब्रिज बनाए जाने के लिए मंदिर न्यास की बैठक में चर्चा हुई है और अप्रूवल हो चुकी है।

100 मीटर के आसपास रहेगी लंबाई

आपको बता दें कि जल्द ही सर्वे के लिए नामी एजेंसी के साथ टाईअप किया जाएगा। उन्होंने बताया कि शक्तिपीठ में अपनी तरह का ऐसा ग्लास स्काई वॉक ब्रिज बनने से धार्मिक पर्यटन की दिशा में एक अहम कदम साबित होगा। देश-विदेश से मां के दर्शनों के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को एक अलग और रोचक एक्टिविटी का मौका मिलेगा। उन्होंने बताया कि यह ग्लास स्काई ब्रिज का ट्रैक 100 मीटर या इससे अधिक लंबा होगा। इसके लिए दो तीन साइट्स भी देखी गई हैं। अब जल्द ही इसकी प्रोपोजल बनाई जाएगी और भौगोलिक परिस्थितियों का अध्ययन के बाद इसके निर्माण को लेकर अगली योजना को अंतिम रूप दिया जाएगा।

Next Story