Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल के 6 जिलों में बाढ़ का खतरा, 2 नेशनल हाइवे सहित 183 सड़कें बंद

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में बीते 24 घंटे से लगातार बारिश (Rain) हो रही है। भारी बारिश से जानमाल का भारी नुकसान हुआ है। भारी बारिश (Heavy Rain) के चलते कई जिलों में बाढ़ का खतरा मड़राने लगा है।

हिमाचल के 6 जिलों में बाढ़ का खतरा, 2 नेशनल हाइवे सहित 183 सड़कें बंद
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में बीते 24 घंटे से लगातार बारिश (Rain) हो रही है। भारी बारिश से जानमाल का भारी नुकसान हुआ है। भारी बारिश (Heavy Rain) के चलते कई जिलों में बाढ़ का खतरा मड़राने लगा है। आपको बता दें कि प्रदेश के 6 जिलों के लिए अलर्ट जारी किया गया है। चंबा, कांगड़ा, कुल्लू, मंडी, शिमला और सोलन के कई इलाकों में बाढ़ की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग (IMD) ने आगामी 36 घंटो तक के लिए अलर्ट जारी किया गया है।

यहां हुई इतनी बारिश

बता दें कि बीते 12 घंटे में सबसे अधिक बारिश धर्मशाला में हुई है। यहां 101 एमएम बारिश दर्ज की गई है। इसके अलावा, शिमला में 69, कांगड़ा में 67, मंडी में 62, कुफरी में 70 एमएम, सोलन में 46 एमएम और नाहन में 58 एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई है। सिरमौर जिले में जटौन बांध से गेट भी खोले गए हैं। आपको बता दें कि प्रदेश में मानसून सीजन में अब तक करीब 200 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीँ नुकसान की बात की जाए तो करोड़ों का नुकसान हुआ है।

इतनी सड़के बंद

भारी बारिश से प्रदेश में 2 एनएच, एक स्टेट हाई वे और 183 संपर्क मार्ग बंद हो गए है। वहीं बारिश के चलते 282 ट्रांसफार्मर ठप हो गए है। वहीं राजधानी शिमला के रोहड़ू उपमंडल के चिड़गांव के तहत गुम्मा खड्ड में सुबह चार बजे बादल फट गया। बादल फटने से गुम्मा खड्ड का रौद्र रूप देखने को मिला। इस बाढ़ में कई वाहन बह गए, वहीं लोगों ने जो वाहन योग्य पुल बनाया था , वह भी बह गया। गुम्मा खड्ड के ऊपर बन रहे फुट ब्रिज जिसे जंगलात महकमा बनवा रहा है, उस के लिए इकठ्ठी की गई सामग्री भी आपदा की भेंट चढ़ गई साथ ही मिक्सर मशीन भी क्षतिग्रस्त हो गई है।

Next Story