Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऊना में महिला शिक्षिका को हुआ ब्लैक फंगस, दवाओं के लिए डीसी को लिखा पत्र

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) के ऊना जिले में कार्यरत एक महिला शिक्षिका को ब्लैक फंगस (black fungus) की पुष्टि हुई है। महिला की शनिवार को होशियापुर अस्पताल (Hospital) में ही सर्जरी करवा दी गई है, जहां पर उपचार जारी है।

ऊना में महिला शिक्षिका को हुआ ब्लैक फंगस, दवाओं के लिए डीसी को लिखा पत्र
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) के ऊना जिले में कार्यरत एक महिला शिक्षिका को ब्लैक फंगस (black fungus) की पुष्टि हुई है। महिला की शनिवार को होशियापुर अस्पताल (Hospital) में ही सर्जरी करवा दी गई है, जहां पर उपचार जारी है। इसके लिए जहां महिला (women) ने डीसी ऊना राघव शर्मा को पत्र लिखकर सूचित किया, वहीं प्राइवेट अस्पताल (Private hospital) संचालकों ने महिला के उपचार के लिए दवाएं उपलब्ध कराने के लिए डीसी ऊना से मांग की।

गौरतलब है कि पिछले 8 वर्ष से महिला राजकीय प्राइमरी स्कूल बाथू में बतौर शिक्षक पद पर तैनात है। कुछ दिन पूर्व शिक्षिका पंजाब के आनंदपुर गई हुई थी, जहां पर बीमार होने के चलते अस्पताल में उपचाराधीन रही। आनंदपुर से महिला को होशियापुर रेफर कर दिया। 27 मई को पंजाब के होशियारपुर स्थित एक निजी अस्पताल उपचार के लिए पहुंची। जहां पर महिला के चेहरे पर बाईं आंख के नीचे फंगस की पुष्टि हुई। इसके बाद चिकित्सकों ने उसकी सर्जरी करने का फैसला लिया था। 29 मई शनिवार को पंजाब के होशियारपुर स्थित निजी अस्पताल में महिला की सर्जरी कर दी गई है। अब महिला अस्पताल में उपचारधीन है।

चिकित्सकों ने महिला के उपचार के लिए दवाई उपलब्ध करवाने के लिए डीसी ऊना को पत्र लिखा है। उधर, मामले को लेकर जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर रमन शर्मा ने कहा कि महिला शिक्षिका में ब्लैक फंगस का पंजाब के निजी अस्पताल द्वारा ध्यान में लाया गया है। महिला की न तो ऊना में कोविड जांच हुई और न ही ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई है।

महिला का उपचार भी होशियापुर के निजी अस्पताल में चल रहा है। होशियापुर के चिकित्सकों द्वारा जानकारी मिली है, जिन्होंने दवाई की मांग की थी, लेकिन दवाई जिला के पास उपलब्ध नहीं है। दवाई मिलते ही निजी अस्पताल प्रशासन को सूचित किया जाएगा।

Next Story