Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Cyber Crime: बैंक, एटीएम कार्ड सहित इन कार्डों की जानकारी मांगने पर हो जाएं सावधान

हिमाचल प्रदेश में साइबर क्राइम के मामले बढ़ते जा रहे हैं।‘वर्ल्ड सूइनोज कम्पयुनिटी’ नामक कंपनी ने अक्तूबर 2018 में किन्नौर व रामपुर क्षेत्र के लोगों को उनके निवेश पर 53 प्रतिशत के हिसाब से ब्याज देने का प्रलोभन दिया था।

Cyber Crime: बैंक, एटीएम कार्ड सहित इन कार्डों की जानकारी मांगने पर हो जाएं सावधान
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश में साइबर क्राइम के मामले बढ़ते जा रहे हैं।'वर्ल्ड सूइनोज कम्पयुनिटी' नामक कंपनी ने अक्तूबर 2018 में किन्नौर व रामपुर क्षेत्र के लोगों को उनके निवेश पर 53 प्रतिशत के हिसाब से ब्याज देने का प्रलोभन दिया था। इस मामले में लाखों रुपये की धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज की गई है जिसकी छानबीन राज्य क्राइम पुलिस स्टेशन शिमला द्वारा की जा रही है।

उन्होंने बताया कि सुइनोज नामक कंपनी के प्रतिनिधियों ने लोगों को क्रिप्टो करंसी पर आधारित स्कीम में निवेश करने के लिए प्रोत्साहित किया जबकि यह कम्पनी क्रिप्टो करंसी कहीं पर भी रजिस्टर्ड नहीं है। इस कम्पनी में निवेश की गयी राशि लाभ सहित कंपनी की वेबसाइट पर निवेशक के डिजिटल वॉलेट में 'सूइनोज तथा रुपये में दिखाई देती थी। निवेशक द्वारा नया सदस्य या निवेशक जोड़ने पर उसके खाते में अतिक्त 5 प्रतिशत लाभ मिलना दर्शाया जाता था।

साइबर क्राइम के प्रवक्ता ने बताया कि कंपनी ने निवेशकों को सूइनोज में काफी ज्यादा वृद्धि का आश्वासन दिया जिस पर विश्वास कर बहुत से निवेशकों ने इस स्कीम में पैसा लगाया। मई 2019 में इस कंपनी की वेबसाइट तथा डिजिटल वॉलेट ने काम करना बंद कर दिया तथा निवेश किये गए पैसे को गबन करके कंपनी गायब हो गयी। इस प्रकार कंपनी द्वारा शिकायतकर्ताओं के साथ लगभग 50 लाख रुपये की धोखाधड़ी की गयी।उन्होंने बताया कि मामले की जांच के दौरान कई लोगों से पूछताछ की गयी तथा अभियोग से सम्बंधित डिजिटल साक्ष्यों का गहनता से अवलोकन किया गया। साक्ष्यों के आधार पर साजिशकर्ता राकेश शर्मा निवासी चंडीगढ़ को गिरफ्तार किया गया है।

बरामद किये गए डिजिटल साक्ष्यों को जांच के लिए राज्य फोरेंसिक साइंस लैब, जुन्गा भेजा गया है। अभियोग में शामिल अन्य अभियुक्तों तथा गबन की गयी राशि की छानबीन की जा रही है। उन्होंने प्रदेश की जनता से अपील की है कि वह इस प्रकार की भारी मुनाफा देने वाली जालसाज कंपनियों व फोन पर बैंक खाता, ओटीपी, एटीएम कार्ड से संबंधित जानकारी मांगने वालों से सचेत रहें तथा किसी भी प्रकार के साइबर अपराधों की सूचना देने के लिए राज्य साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन शिमला के टोल फ्री नंबर 155260, व्हाट्सऐप हेल्पलाइन नम्बर 98059-53670, लैंडलाइन नम्बर 0177-2620331 पर शिकायत करें।

Next Story