Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कांगड़ा जिले के सिहुंवा गांव में कोरोना का कहर, 75 प्रतिशत ग्रामीणों को हुआ कोविड

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के कांगड़ा जिले (kangra district) की सिहुंवा पंचायत में सबसे ज्यादा कोरोना (Corona) के मरीज हैं। आलम यह है कि यहां पर कोरोना संक्रमण (Corona infection) के मामले तेजी से बढ़ें हैं।

कांगड़ा जिले के सिहुंवा गांव में कोरोना का कहर, 75 प्रतिशत ग्रामीणों को हुआ कोविड
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के कांगड़ा जिले (kangra district) की सिहुंवा पंचायत में सबसे ज्यादा कोरोना (Corona) के मरीज हैं। आलम यह है कि यहां पर कोरोना संक्रमण (Corona infection) के मामले तेजी से बढ़ें हैं। सिहुंवा गांव की 75 फ़ीसदी जनता में कोरोना का संक्रमण पाया गया है। ऐसे में इस पंचायत को प्रशासन की गाइडलाइन के मुताबिक कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। जब से सिहुंवा पंचायत (Sihunwa Panchayat) में कोरोना का ब्लास्ट हुआ है। यहां की आधे से ज़्यादा की आबादी पूरी तरह से घर में कैद हो कर रह गई है, ऐसे में इस पंचायत के वो लोग और भी मजबूर और लाचार हो चुके हैं। जो दो जून की रोटी के जुगाड़ के लिये दिहाड़ी मजदूरी किया करते थे, या फिर बाजारों में स्वरोजगार चलाया करते थे।

वहीं पंचायत के प्रधान अजय बबली की सूझबूझ का ही नतीज़ा कहेंगे कि इन हालातों में भी इस पंचायत की जनता को उन्होंने एक सूत्र में पिरोये रखा और उन्हें हर हाल में हर एजेंसी की मदद के जरिये हर घर परिवार तक राशन भी मुहैया करवाया, इतना ही नहीं अब तो बड़ी बड़ी संस्थाएं भी सिहुंवा पंचायत के संक्रमित और लाचार लोगों की मदद के लिये आगे आई हैं। आज माता बगलामुखी की जयंती के ख़ास अवसर पर बगुलामुखी ट्रस्ट बनखंडी के मंहत रजतगिरी ने सिंहवा पंचायत के प्रधान के साथ सम्पर्क किया और हर सम्भव सहयोग की अपील की।

वहीं रजतगिरी की इस अपील पर प्रधान अजय बबली ने फ़िलहाल राशन वितरण की डिमांड की जिसको मद्देनजर रखते हुए मंहत रजतगिरी ने अपने अनुयायियों की अगुवाई में इस पंचायत के लोगों के लिये राशन पहुंचाया। साथ ही अपील की कि अगर लोगों को जीवनरक्षक दवाइयों या अन्य चीजों की भी ज़रूरत महसूस होती है तो वो भी बेझिझक मांगें बगलामुखी ट्रस्ट हर हाल में वो भी मुहैया करवायेगा।

Next Story