Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

युवा विज्ञान सम्मेलन में सीएम जयराम ने होनहार छात्र-छात्राओं को किया पुरस्कृत

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) के सीएम जयराम ठाकुर (Cm Jairam Thakur) ने शिमला के पीटर हॉफ में युवा विज्ञान पुरस्कार (Youth Science Award) सम्मेलन के अंतर्गत बच्चों द्वारा लगाई गई विज्ञान विषय से संबंधित प्रदर्शनी का अवलोकन किया, जिसमें बच्चों की मेहनत झलक रही है, सीएम ने सभी बच्चों की सराहना की।

युवा विज्ञान सम्मेलन में सीएम जयराम ने होनहार छात्र-छात्राओं को किया पुरस्कृत
X

युवा विज्ञान सम्मेलन में होनहार छात्र-छात्राओं पुरस्कृत करते सीएम जयराम ठाकुर।

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) के सीएम जयराम ठाकुर (Cm Jairam Thakur) ने शिमला के पीटर हॉफ में युवा विज्ञान पुरस्कार (Youth Science Award) सम्मेलन के अंतर्गत बच्चों द्वारा लगाई गई विज्ञान विषय से संबंधित प्रदर्शनी का अवलोकन किया, जिसमें बच्चों की मेहनत झलक रही है, सीएम ने सभी बच्चों की सराहना की। सीएम ने कहा कि देवभूमि हिमाचल के बच्चों की प्रतिभा देखकर गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। वहीं सीएम ने सभी छात्र-छात्राओं (Students) के उज्ज्वल भविष्य की कामना की।


एएनआई एजेंसी के मुताबिक, युवा विज्ञान पुरस्कार सम्मेलन में हमने होनहार छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया। सम्मानित बच्चों तथा उनके अभिभावकों व शिक्षकों को हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि हमारे बच्चे विज्ञान क्षेत्र में आगे बढ़कर नए मुकाम हासिल करें, नई सोच और टेक्नोलॉजी के साथ हिमाचल का नाम रोशन करें।

हिमाचल देश का दूसरा सबसे अधिक साक्षर राज्य

जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है और आवश्यकता केवल इस बात की है कि विद्यार्थियों को बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रेरित किया जाए। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश देश का दूसरा सबसे अधिक साक्षर राज्य है। उन्होंने कहा कि शिक्षकों को विद्यार्थियों में वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रेरित करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 (Covid-19) महामारी ने विद्यार्थियों की पढ़ाई पर प्रतिकूल प्रभाव डाला है। राज्य सरकार ने यह सुनिश्चित किया कि छात्रों को वर्चुअल माध्यम से पढ़ाया जाए और इसका सफलतापूर्वक कार्यान्वित भी किया गया। उन्होंने कहा कि कक्षा की पढ़ाई का कोई अन्य विकल्प नहीं है और विद्यार्थियों ने उन्हें लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान और इसके बाद कक्षाएं शुरू करने का आग्रह किया।

छात्रों ने कार्यक्रमों में दिखाई रूचि

जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश विज्ञान प्रौद्योगिकी और पर्यावरण परिषद् ने विज्ञान को बढ़ावा देने व लोकप्रिय बनाने के लिए वर्षभर बाल विज्ञान सम्मलेन, राष्ट्रीय विज्ञान दिवस, राष्ट्रीय गणित दिवस, ग्रहण अवलोकन जैसे विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया। उन्होंने कहा कि इन कार्यक्रमों का विद्यार्थियों, वैज्ञानिकों और गणितज्ञ पर विशेष प्रभाव पड़ा और उन्होंने इन कार्यक्रमों में विशेष रूचि दिखाई। सीएम ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने चुनौतियों को अवसर में तबदील करने का मंत्र दिया है तभी राष्ट्र की उन्नति हुई है। उन्होंने कहा कि जब भारत में कोरोना वायरस का पहला मामला पाया गया था तो भारत में उस समय एक भी पीपीई किट तैयार नहीं होती थी। उन्होंने कहा कि आज भारत ना केवल देश के लिए पर्याप्त मात्रा में पीपीई किट तैयार कर रहा है, बल्कि अन्य देशों को भी निर्यात कर रहा है।

Next Story