Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चमोली में ग्लेशियर टूटने से आई भयंकर बाढ़ में बहे हिमाचलियों का नहीं लगा सुराग, परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल

ग्लेशियर गिरने से उत्तराखंड (Uttrakhand) राज्य के चमोली जिले (Chamoli District) में भयंकर बाढ़ की चपेट में आये हिमाचलियों (Himachal pradesh) का अब तक कोई पता नहीं चला है। हादसे की चपेट में शिमला (shimla) जिले के रामपुर उपमंडल के सात लोग भी आये है।

चमोली में ग्लेशियर गिरने से आई भयंकर बाढ़ में बहे हिमाचलियों का नहीं लगा सुराग, परिवार वालों को रो-रोकर बुरा हाल
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

ग्लेशियर गिरने से उत्तराखंड (Uttrakhand) राज्य के चमोली जिले (Chamoli District) में भयंकर बाढ़ की चपेट में आये हिमाचलियों (Himachal pradesh) का अब तक कोई पता नहीं चला है। हादसे की चपेट में शिमला (shimla) जिले के रामपुर उपमंडल के सात लोग भी आये है। जिनका अब तक कोई सुराग नहीं लगा है। लापता लोगों के परिजनों ने प्रशासन और सरकार से जल्द खोजने की गुहार लगाई है। लापता लोगों के घरों में मातम पसरा हुआ है। क्षेत्रीय प्रशासन और सरकार की और से भी प्रयास हुए है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ग्लेशियर टूटने के बाद आई तबाही में हिमाचल प्रदेश के कुल 10 युवक लापता हैं। इनमें शिमला (Shimla) जिले के रामपुर की किन्नू पंचायत के पांच, शिमला के दो और कांगड़ा जिले के पालमपुर (Palampur) का एक युवक शामिल है। इनके बारे में अब तक कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।

शिमला जिले के रामपुर के किन्नू के रुनपू गांव के कैलाश चंद, आशीष, बागवट के दीवान चंद, देवेंद्र और अमित के अलावा, शिंगला के पवन कुमार और राकेश कुमार लापता हैं। वहीं कांगड़ा जिले के पालमपुर के राकेश कपूर भी लापता हैं। वह प्रोजेक्ट मैनेजर हैं। रेस्क्यू आपरेशन चलाया जा रहा है। हिमाचल से लापता होने वालों का अभी कोई सुराग नहीं लगा है।

Next Story