Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रदेश में लॉकडाउन बढ़ाने के फैसले का व्यापारी वर्ग ने किया विरोध, लगाया ये आरोप

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) व्यापार मंडल के सह-कोषाध्यक्ष व प्रभारी बीबीएन संजीव कौशल ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू (Corona curfew) में व्यापारी वर्ग हर संभव सहयोग सरकार को दे रहे है।

दिल्ली में अनलॉक-3: DDMA ने वीकली मार्केट को लेकर जारी की SOP, बीमार लोग नहीं जा पाएंगे बाजार, ये होगा टाइमटेबल
X

DDMA ने वीकली मार्केट को लेकर जारी की SOP

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) व्यापार मंडल के सह-कोषाध्यक्ष व प्रभारी बीबीएन संजीव कौशल ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू (Corona curfew) में व्यापारी वर्ग हर संभव सहयोग सरकार को दे रहे है। लेकिन प्रदेश की कैबिनेट ने जिस प्रकार से लॉकडाउन (Lockdown) को आगे बढ़ाने का फैसला किया और उसमें सभी व्यापारियों में रोष व्याप्त है। वहीं, प्रदेश के अन्य प्रमुख व्यापारियों ने कहा कि हमने सरकार तक अपनी बात पहुंचाई थी, लेकिन सरकार ने मनमाना निर्णय किया है।

कारोबारियों ने कहा कि इस समय चाहिए यह था कि सभी व्यापारियों को दुकानें खोलने का अवसर कुछ अवधि के लिए दिया जाना चाहिए था, ताकि सब अपना-अपना कारोबार कर सके। उन्होंने कहा कि कोरोना के नियमों को मानने में हम सब पूरी तरह से आगे रहकर के काम कर रहे हैं। सरकार को सहयोग भी कर रहे हैं, लेकिन हालत यह है कि अनेक व्यापारियों को दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, व्यापारियों ने कहा कि हम तो इस पक्ष के हैं कि सब खुले चाहे कुछ समय के लिए खुले, इससे जहां व्यापारी और अधिक आगे आकर सरकार को सहयोग करेगा। वहीं, सरकार को भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। राहत के नाम पर तो सरकार व्यपारी को कुछ दे नहीं रही।

वहीं संजीव कौशल ने कहा कि सरकार बताएं कि क्या व्यापारी कोरोना फैलाता है। उन्होंने कहा कि हर जगह के व्यापारी ही टैक्स, जीएसटी दे, व्यापारी सरकार को मदद दे व प्रशासन को मदद करें और व्यापारी को ही चक्की में पीस दिया जाए यह न्याय उचित नहीं है। उन्होंने आग्रह किया कि कैबिनेट का जो निर्णय हुआ है उस पर मुख्यमंत्री पुनर्विचार करते हुए व्यापारियों को राहत दें।

Next Story