Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पहाड़ी क्षेत्रों में 10 दिन बाद शुरू हो जायेगा सेब सीजन, जाने कब मंडी में पहुँचेगा

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के पहाड़ी क्षेत्रों में 10 दिन बाद सेब का सीजन (Apple Season) शुरू हो जाएगा। लेकिन सरकार (Government) की तैयारियां आधी अधूरी ही हैं। सरकार ने कार्टन और अन्य पैकिंग सामग्री के लिए भले ही रेट आमंत्रित किए हैं।

पहाड़ी क्षेत्रों में 10 दिन बाद शुरू हो जायगा सेब सीजन, सबसे पहले मंडियों में पहुंचता है ये सेब
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के पहाड़ी क्षेत्रों में 10 दिन बाद सेब का सीजन (Apple Season) शुरू हो जाएगा। लेकिन सरकार (Government) की तैयारियां आधी अधूरी ही हैं। सरकार ने कार्टन और अन्य पैकिंग सामग्री के लिए भले ही रेट आमंत्रित किए हैं, लेकिन अभी सेब कार्टनों के दाम तक तय नहीं कर पाई है। बागवानों का कहना है कि प्रदेश के कम ऊंचाई वाले इलाकों में अर्ली वैरायटी के सेब का तुड़ान 15 जून से शुरू हो जाता है। इसके बाद सेब मंडियों में पहुंचाया जाता है। सीजन शुरू होने में दस दिन का ही समय बचा है। रेड चीफ और टाइडमैन सेब सबसे पहले बिकने के लिए मंडियों में पहुंचता है।

प्रदेश के बागवानों के लिए सरकार पहले अप्रैल में सेब कार्टन और पैकिंग ट्रे के रेट तय करती थी, लेकिन अभी तक कंपनियों के रेट निर्धारित नहीं हुए हैं। हालांकि, कंपनियों ने 1 जून तक रेट के लिए टेंडर मांगे गए थे। बागवानों का कहना है कि अमूमन सेब ढुलाई का भाड़ा भी प्रशासन पहले ही तय कर लेता है, जिससे बाद में परेशानी न हो, लेकिन इस बार भाड़ा भी अभी तय नहीं है। एचपीएमसी के महाप्रबंधक भुवन शर्मा ने कहा कि कंपनियों से रेट मांगे जा चुके हैं। कोरोना के कारण टेंडर देरी से आए हैं। शीघ्र कार्टनों के रेट तय हो जाएंगे।

वहीं प्रदेश किसान संघर्ष समिति के महासचिव संजय चौहान का कहना है कि बागवानों के लिए कार्टन के रेट तय नहीं हो पाए हैं। एडवांस बुकिंग करने पर कार्टन 62 से 74 रुपये में मिल रहा है। पिछली बार यह 48 से 52 रुपये में मिला था। जब अफगानिस्तान और ईरान से क्रेट में सेब आ सकता है तो फिर यह हिमाचल से बाहर मंडियों में क्रेट में क्यों नहीं बेचा जा सकता। क्रेट में सेब बेचकर क्रेट बार-बार प्रयोग कर सकते हैं। यह 130 रुपये में मिल जाता है।

Next Story