Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सेब के दामों ने पकड़ी रफ्तार, शिमला मंडी में 4 हजार रुपये बॉक्स के मिल रहे हैं दाम

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में सेब सीजन (Apple Season) ने रफ्तार पकड़ ली है। राज्य में सेब सीजन के गति पकड़ते ही सेब (Apple) के दामों में इजाफा आया है। मार्केट में स्पर वैरायटी (Spur Variety) के सेब के दाम चार हजार रुपए बॉक्स तक पहुंच गए हैं।

सेब के दामों ने पकड़ी रफ्तार, शिमला मंडी में 4 हजार रुपये बॉक्स के मिल रहे हैं दाम
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में सेब सीजन (Apple Season) ने रफ्तार पकड़ ली है। राज्य में सेब सीजन के गति पकड़ते ही सेब (Apple) के दामों में इजाफा आया है। मार्केट में स्पर वैरायटी (Spur Variety) के सेब के दाम चार हजार रुपए बॉक्स तक पहुंच गए हैं। सेब के दामों में इजाफा आने से बागबान मालामाल होने लग गए हैं। शिमला जिले की पराला फल मंडी में शनिवार को स्पर वैरायटी का सेब चार हजार रुपए प्रति बॉक्स के हिसाब से बिका है। जानकारी के तहत स्पर वैरायटी का यह सेब टयाली क्षेत्र से आया था। 25 बॉक्स का यह लॉट टयाली से बागबान राम स्वरूप का बताया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्पर वैरायटी के सेब के दामों में इजाफा आने से बागबानों के चेहरे खिल गए हैं। बागबानों को उम्मीदें हैं कि अगामी दिनों के दौरान भी सेब के अच्छे दाम मिलेंगे। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में सेब सीजन ने गति पकड़ ली है। फल मंडियों में टाइडमैन, रेड जून के साथ-साथ स्पर व रॉयल सेब पहुंचना शुरू हो गया है।

बागबानों को टाइडमैन व रेड जून सेब के भी अच्छे दाम मिले हैं। फल मंडियों में अगामी दिनों के दौरान स्पर सेब के साथ रॉयल सेब की फसल की आमद में तेजी आ जाएगी। अगामी दिनों के दौरान भी अगर मार्केट स्थिर बनी रहती है, तो प्रदेश में बागबानों को सेब के अच्छे दाम मिलेंगे। प्रदेश में कोरोना काल में बागबानों को भारी दिक्कतों सहित आर्थिक तगंहाली की मार झेलनी पड़ी है, मगर सेब के दामों में इजाफा आने से बागबानों को सीजन में अच्छे दाम मिलने से राहत की उम्मीदें जगी हैं।

वहीं प्रदेश में बंपर फसल होने का पूर्वानुमान लगाया जा रहा है। बागबानी विभाग द्वारा राज्य में चार करोड़ बॉक्स के उत्पादन का अनुमान लगाया जा रहा है। हालांकि प्रदेश में फसल की सेटिंग व इसके बाद जमकर ओलावृष्टि हुई थी, जिससे सेब की फसल को नुकसान भी हुआ था। इसके बावजूद राज्य में बंपर फसल होने का पूर्वानुमान लगाया जा रहा है।

Next Story