Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

फर्जी डिग्री मामले में पुलिस ने मास्टरमाइंड सहित 5 आरोपियों को दबोचा

हिमाचल प्रदेश में फर्जी डिग्री (Fake Degree) बेचने का धंधा काफी समय से चल रहा है। यहां पर नामी शिक्षण संस्थानों के नाम पर फर्जी बेबसाइड बनाकर इस धंधे को अंजाम देते हैं। अब इस गिरोह को चलाने वाले सरगना को बद्दी पुलिस ने पकड़ा है।

फर्जी डिग्री मामले में पुलिस ने मास्टरमाइंड सहित 5 आरोपियों को दबोचा
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश में फर्जी डिग्री (Fake Degree) बेचने का धंधा काफी समय से चल रहा है। यहां पर नामी शिक्षण संस्थानों के नाम पर फर्जी बेबसाइड बनाकर इस धंधे को अंजाम देते हैं। अब इस गिरोह को चलाने वाले सरगना को बद्दी पुलिस ने पकड़ा है। आपको बता दें कि आरोपियों ने नामी यूनिवर्सिटी, हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड (Himachal School Board of Education) सहित कई राज्यों के शिक्षा बोर्ड की 100 से भी ज्यादा फर्जी वेबसाइट तैयार कर रखी थीं। पुलिस ने गिरोह के मास्टरमाइंड समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह गिरोह 10वीं से लेकर डॉक्टर-इंजीनियर की फर्जी डिग्रीयां बनाकर बेचता था। इनका यह धंधा यहां पर खूब फल-फुल रहा था। आपको बात दें कि एक डिग्री की कीमत 10 हजार से लेकर एक लाख तक होती थी। एसआईटी ने इस मामले में छह हजार से ज्यादा डिग्रियां, सर्टिफिकेट, विभिन्न शिक्षण संस्थानों के प्रिंसीपल, लेक्चरर की डेढ़ सौ से ज्यादा मुहरें सहित अन्य सामग्री बरामद की है। पुलिस मामले की गहनता से जांच कर रही है।

आपको बता दें कि ये आरोपी दिल्ली, पंजाब व उत्तराखंड से गिरफ्तार किए गए हैं। ये लोग दिल्ली में सक्रिय यह गिरोह कम पढ़े-लिखे लोगों से मोटी रकम वसूल कर उन्हें मनमाफिक ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट व डिप्लोमा वाले पाठ्यक्रम के फर्जी सर्टीफिकेट तैयार कर मुहैया करवाता था। पुलिस का दावा है कि यह गिरोह कई राज्यों में सक्रिय था।

बता दें कि पुलिस इस मामले में पिछले साल 15 दिसंबर से जांच कर रही थी। यह मामला तब सामने आया जब बरोटीवाला औद्योगिक क्षेत्र में स्थित एक विश्वविद्यालय की एक फर्जी डिग्री पाई गई। पड़ताल में सामने आया कि गिरोह विभिन्न राज्यों में फैले कई एजेंटों के माध्यम से संचालित होता था। डीएसपी बद्दी नवदीप सिंह की अगवाई में गठित एसआईटी ने जाल बिछाकर गिरोह को पकड़ा है। एसपी बद्दी रोहित मालपानी ने बताया कि पुलिस ने धारा 420, 465, 468,471 व आईटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया है और पांच लोगों को तीन माह की पड़ताल के बाद गिरफ्तार किया है।

ऐसे गिरफ्त में आए शातिर

आपको बता दें कि पुलिस ने सरगना एनान अहमद (34) बिहार मोहम्मद सलीम (29) दिल्ली, भारती (28) दिल्ली को पांच फरवरी को नोएडा से गिरफ्तार किया था। इसके बाद, आठ फरवरी को चौथे आरोपी मनीष (32) पुत्र लेखराज निवासी फाजिल्का पंजाब को गिरफ्तार किया। इसके अलावा, पांचवी आरोपी अर्चना सिंह (31) यूपी को हरिद्वार से गिरफ्त में लिया है। पकड़े गए सभी आरोपियों से पुलिस पुछताछ कर रही है।

Next Story