Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल प्रदेश: सतलुज नदी में कार गिरने से मां-बेटी की मौत

सतलुज नदी में कार गिरने से मां-बेटी की मौत हो गई, जबकि अन्य घायल हैं। हादसा हिमाचल प्रदेश के के मंडी और शिमला जिले की सीमा पर हुआ है। करसोग के पास तत्तापानी में पुल के पास रविवार को एक कार सतलुज नदी में गिर गई।

हादसा: सतलुज नदी में कार गिरने से मां-बेटी की मौत
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

सतलुज नदी में कार गिरने से मां-बेटी की मौत हो गई, जबकि अन्य घायल हैं। हादसा हिमाचल प्रदेश के के मंडी और शिमला जिले की सीमा पर हुआ है। करसोग के पास तत्तापानी में पुल के पास रविवार को एक कार सतलुज नदी में गिर गई। हादसे में मंडी के नायब तहसीलदार की पत्नी और बेटी की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार, कार सवार लोग करसोग से शिमला की ओर जा रहे थे। गाड़ी में सवार पिता और बेटी को चोटें आई हैं। कार में एक ही परिवार के चार लोग सवार थे। वाहन मालिक नायब तहसीलदार दीवान सिंह मंडी निर्वाचन दफ्तर में कार्यरत हैं और वह खुद चला रहे थे। सुन्नी पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

रविवार को दोपहर बाद स्विफ्ट कार करसोग से शिमला की ओर जा रही थी। तत्तापानी पुल क्रॉस करने के बाद सुन्नी की तरह गाड़ी ने करीब पौना किलोमीटर का सफर तय किया था कि कार में सवार सभी लोग खाना खाने के लिए फिर से तत्तापानी की ओर मुड़ गए। इस दौरान कुछ दूरी तय करने के बाद कार अनियन्त्रित होकर रेलिंग के ऊपर से सतलुज नदी में जा गिरी।

नदी में गाड़ी के गिरने की आवाज सुनते ही आसपास के लोग घटना स्थल पर एकत्रित हो गए और सूचना सुन्नी पुलिस को दी गई। पुलिस ने तुरंत घटना स्थल पर पहुंच कर लोगों के सहयोग से गाड़ी में सवार चारों लोगों को बाहर निकाला और उपचार के लिए सिविल अस्पताल सुन्नी ले जाया गया। लेकिन डॉक्टरों की टीम ने मीना ठाकुर (42) और नताशा ठाकुर (13) को मृत घोषित कर दिया। दीवान (47) और विपाशा ठाकुर (18) को गाड़ी से सुरक्षित बाहर निकाला गया। दोनों को हादसे के दौरान कुछ चोटें आई है। दीवान सिंह तहसील निहरी डाकखाना झूंगी गांव चडोग के रहने वाले है। सुन्नी थाना के सब इंस्पेक्टर जयदेव ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

Next Story