Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लेह जा रहे 250 मजदूरों में से 39 निकले कोरोना संक्रमित, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप

लाहौल स्पीति (Lahaul Spiti) में बर्फबारी के चलते 250 मजदूर कई दिनों से हाईवे पर फंसे हुए थे। आपको बात दें कि दारचा से आगे भारी हिमपात (Snowfall) के चलते लेह हाईवे बंद है। इसलिए ये मजदूर दारचा और जिस्पा के आसपास फंसे हुए थे।

लेह जा रहे 250 मजदूरों में से 39 निकले कोरोना संक्रमित, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

लाहौल स्पीति (Lahaul Spiti) में बर्फबारी के चलते 250 मजदूर कई दिनों से हाईवे पर फंसे हुए थे। आपको बात दें कि दारचा से आगे भारी हिमपात (Snowfall) के चलते लेह हाईवे बंद है। इसलिए ये मजदूर दारचा और जिस्पा के आसपास फंसे हुए थे। कई दिनों तक हाइवे पर फंसने के बाद स्वास्थ्य विभाग (Health Department) ने इन मजदूरों का कोरोना टेस्ट करवाया तो हड़कंप मच गया। बता दें की 250 मजदूरों में से 39 लोगों की रिपोर्ट कोरोना संक्रमित आई है। बीआरओ के ये 250 मजदूर लेह (Leh) जा रहे थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, लाहौल में पिछले काफी दिनों से कोरोना का एक भी मामला सामने नहीं आया था। अभी दो माह बाद यहां एक मामला सामने आया था। लेकिन अब 39 केस सामने आने से हड़कंप मच गया है। लाहौल में गुरुवार को कुल 244 सैंपल जांच के लिए गए थे। ऐसे में लाहौल स्पीति के डीसी पंकज राय ने मजदूरों के लिए कोरोना रिपोर्ट कंपल्सरी कर दी है। डीसी लाहौल ने शुक्रवार को जारी आदेशों में कहा है कि लेह जाने वाले सभी मजदूरों को लाहौल से गुजरने के लिए कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट साथ लानी होगी।

उपायुक्त ने दिए आदेश

उपायुक्त पंकज राय ने अपने आदेशों में कहा कि दो दिन में 43 मजदूर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। ऐसे में अब लाहौल से गुजरने वालों को 72 घंटे पहले करवाए गए कोरोना टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। डीसी के आदेशों में साफ कहा गया है कि अब नेगेटिव रिपोर्ट पेश करने वालों को ही लाहौल में प्रवेश करने दिया जाएगा। बगैर कोरोना रिपोर्ट के लाहौल में बाहर से आने वाले किसी भी व्यक्ति को एंट्री नहीं दी जाएगी।

Next Story