Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा के Cm Manohar lal का मंदिर बनाकर की पूजा, नगर परिषद ने तोड़ा, लोगों ने फिर शुरू किया निर्माण

नारनौल में रघुनाथपुरा की पहाड़ी पर बसे लोगों के कच्चे-पक्के मकानों को 13 जून को तोड़ दिया गया था। अब यहां इन लोगों ने रातों-रात सीएम मनोहर लाल का मंदिर बना दिया। एक चबूतरा तैयार कर उसे फूलों से सजाया और वहां सीएम मनोहर लाल की तस्वीर लगा दी गई।

हरियाणा के Cm Manohar lal का मंदिर बनाकर की पूजा, नगर परिषद ने तोड़ा, लोगों ने फिर शुरू किया निर्माण
X

सीएम की फोटो लगाकर पूजा करते लोग और चबूतरे को तोड़ती नप की जेसीबी मशीन।

हरिभूमि न्यूज : नारनौल

नगर परिषद की सीमा में रघुनाथपुरा की पहाड़ी पर बसे लोगों के कच्चे-पक्के मकानों को 13 जून को तोड़ दिया गया था। अब यहां इन लोगों ने रातों-रात सीएम मनोहरलाल का मंदिर बना दिया। एक चबूतरा तैयार कर उसे फूलों से सजाया और वहां सीएम मनोहर लाल की तस्वीर लगा दी गई। शुक्रवार की रात हवन किया। इस दौरान भाजपा से जुड़े नगर पार्षद रहे प्रमोद तरेडि़या एडवोकेट के नेतृत्व में लोगों ने सीएम मनोहरलाल व भगवान श्रीराम के जयकारे लगाए। शनिवार सुबह भी पूजा अर्चना की गई। दोपहर में यह फोटो वायरल हो गई। शाम को नगर परिषद के ईओ अभयसिंह यादव नप दस्ता लेकर मौके पर पहुंचे। सीएम मनोहरलाल की फोटो सम्मानजनक वहां से उठाई और फिर उस चबूतरे को ढहा दिया गया। मामला यहीं नहीं थमा। नगर परिषद की टीम लौटने के बाद फिर से वहां रहने वाले लोगों ने मंदिर का निर्माण शुरू कर दिया।

जानकारी के अनुसार नारनौल-सिंघाणा रोड पर करीब दो किलोमीटर दूरी पर अरावली श्रृंखला की एक छोटी पहाड़ी स्थित है। इसी पहाड़ी पर गरीब मजदूर तबके के लोगों ने छोटे-छोटे कमरों व झु़ग्गियों के रूप में आशियाने बनाकर रहना शुरू कर दिया, जिन्हें यहां रहते हुए लंबा अरसा हो गया। यहां कुछ लोगों ने गरीब लोगों को बसाने की एवज में अवैध रूप से प्लाटिंग शुरू कर काली कमाई करनी शुरू कर दी थी। इस पर कार्रवाई करते हुए नगर परिषद ने इन लोगों को इस बस्ती के लोगों को खाली करने को पहले चेताया। जगह खाली नहीं करने पर फिर 13 जून को जेसीबी चलाकर यहां बने 50 कच्चे-पक्के मकानों को ढहा दिया। हालांकि यह मामला अब हाईकोर्ट में विचाराधीन है।

ढहा दिया चबूतरा

शनिवार दोपहर में जैसे ही रघुनाथपुरा पहाड़ी पर सीएम का मंदिर बनाने एवं कार्यक्रम होने की खबर सोशल मीडिया पर वॉयरल हुई ईओ अभयसिंह यादव के पिता का राम नर्सिंग होम में ऑपरेशन चल रहा था। वहां रूकने की बजाय वह नप अमला व जेसीबी मशीन लेकर शाम करीब साढ़े चार बजे मौके पर पहुंचे। सीएम की फोटो को हटाया। उसके बाद मंदिर रूपी चबूतरे को जेसीबी मशीन से तुड़वा कर जमीन को साफ कर दिया।


मंदिर तोड़े जाने के बाद फिर से निर्माण करते लोग

प्रमोद तरेडिया बोले...अभी शुरूआत, भव्य मंदिर का रूप देंगे

पहाड़ी पर टूटे मकानों वालों का साथ दे रहे एडवोकेट प्रमोद तरेडि़या ने कहा कि सीएम मनोहर लाल सच्चे यशस्वी देवतुल्य संत हैं, जिन्होंने गरीबों के हक में कार्य किया है। उन्होंने कहा कि फिलहाल तो मंदिर की शुरूआत की गई है और भव्य मंदिर का रूप दिया जाएगा। लोगों की उनमें गहरी आस्था है और उन्हें पूजते हैं। चबूतरे को तोड़ने पर प्रमोद तरेडि़या एडवोकेट का कहना था कि भगवान राम की कसम खाते हैं, मंदिर वहीं बनाएंगे।


Next Story