Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

महिला विश्व बाक्सिंग चैंपियनशिप : तुर्की में दिखा हरियाणवी मुक्के का दम, मनीषा मौण ने जीता कांस्य पदक

हरियाणा की छोरी छोरों से कम नहीं है। ये कर दिखाया हरियाणा के कैथल जिले की बेटी अंतर्राष्ट्रीय बॉक्सिंग खिलाड़ी मनीषा ने।

महिला विश्व बाक्सिंग चैंपियनशिप : तुर्की में दिखा हरियाणवी मुक्के का दम, मनीषा मौण ने जीता कांस्य पदक
X

मनीषा मौण 

हरिभूमि न्यूज : कैथल

हरियाणा की छोरी छोरों से कम नहीं है। ये कर दिखाया हरियाणा के कैथल जिले की बेटी अंतर्राष्ट्रीय बॉक्सिंग खिलाड़ी मनीषा ने। तुर्की में बॉक्सिंग खिलाड़ी मनीषा मौण के कांस्य पदक जीतने पर आरकेएसडी कॉलेज कैथल के बॉक्सिंग सेंटर में खुशी की लहर है। सेमी फाइनल में हालांकि वह इटली की खिलाड़ी से पराजित हो गईं लेकिन उन्होंने आगे और मेहनत करने की बात कही।

बाक्सिंग प्रशिक्षक गुरमीत सिंह ने बताया कि तुर्की के इस्तांबुल में अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज संघ की महिला विश्व बॉक्सिंग प्रतियोगिता में मनीषा ने सफलता हासिल कर जिले का नाम रोशन किया है। उन्होंने 32 देशों के खिलाड़ियों में से टॉप 4 में जगह बना ली है। उन्होंने साल 2011 में अंबाला रोड स्थित आरकेएसडी बाक्सिंग खेल सेंटर में खेलना शुरू किया था। कोच ने बताया कि मनीषा जब कैथल आएगी तो उसका स्वागत समारोह किया जाएगा। मनीषा की जीत पर आरकेएसडी प्रबंधक समिति के चेयरमैन साकेत मंगल एडवोकेट, महासचिव पंकज बंसल, सुनील चौधरी, अनिल शोरेवाला, नवनीत गोयल, श्याम बंसल आदि ने मनीषा व प्रशिक्षकों को बधाई दी है।

यूं रहा मनीषा मौण का सफर

मनीषा मौण मूल रुप से कैथल जिले के गांव मटौर की रहने वाली है। उन्होंने वर्ष 2011 में शहर के अंबाला रोड स्थित आरकेएसडी कॉलेज में बॉक्सिंग खेल सेंटर में खेलना शुरू किया था। इसके बाद उन्हें कई उपलब्धियां हासिल होती गई। थाइलैंड में हुए आॅपन बाक्सिंग चैंपियनशिप में उन्होंने कांस्य पदक हासिल किया था। वर्ष 2018 में आइबा ओपन प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक हासिल किया था। इसके अलावा भी कईं अन्य पदक हासिल कर चुकी हैं।

ये हैं मनीषा की मुख्य उपलब्धियां

अप्रैल 2019 में थाईलैंड में हुई एशियन चैंपियनशिप में कांस्य पदक।

2018 में हुई आईबा ओपन प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल।

2019 में हुई आईबा ओपन प्रतियोगिता में सिल्वर मेडल।

2019 में दिल्ली में हुई बिग बाउट प्रतियोगिता में सिल्वर मेडल।

नेशनल स्तर की प्रतियोगिताओं में करीब 20 गोल्ड जीत चुकी है।

और पढ़ें
Next Story