Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा महिला कांस्टेबल भर्ती परीक्षा 18 और 19 सितंबर को, परीक्षार्थियों के लिए रोडवेज चलाएगा स्पेशल बसें

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (एचएसएससी) द्वारा 18 और 19 सितंबर को सुबह और शाम के सेशन में हरियाणा पुलिस फीमेल कांस्टेबल (जीडी) को लेकर परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। ऐसे में महिला परीक्षार्थी इस परीक्षा में समय पर पहुंच सके, इसके लिए रोडवेज ने तैयारियां पूरी कर ली हैं।

हरियाणा महिला कांस्टेबल भर्ती परीक्षा 18 और 19 सितंबर को, परीक्षार्थियों के लिए रोडवेज चलाएगा स्पेशल बसें
X

जींद बस अड्डे पर लगी बसें।

हरिभूमि न्यूज. जींद

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (एचएसएससी) द्वारा 18 और 19 सितंबर को सुबह और शाम के सेशन में हरियाणा पुलिस फीमेल कांस्टेबल (जीडी) को लेकर परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। ऐसे में महिला परीक्षार्थी इस परीक्षा में समय पर पहुंच सके, इसके लिए जींद डिपो प्रबंधन ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। परीक्षा वाले दिन परीक्षार्थियों के लिए स्पेशल बसें चलाई जाएंगी। परीक्षा के लिए यमुनानगर, करनाल, अंबाला, पंचकूला व कुरूक्षेत्र में सेंटर बनाए गए हैं। ऐसे में परीक्षा देने वाली युवतियों के साथ उनके परिजन भी जाएंगे। बसों में भीड़ न रहें और परीक्षार्थी समय पर परीक्षा केंद्र तक पहुंच सकें, इसका विशेष प्रबंध किया गया है। 10 बसों को इन दो दिनों में रिजर्व भी रखा जाएगा। जिस भी रूट पर ज्यादा परीक्षार्थी जाने के लिए तैयार होंगे उसी रूट पर बसों को चला दिया जाएगा।

गौरतलब है कि हरियाणा पुलिस कॉस्टेबल भर्ती 2020 के तहत महिला कांस्टेबल (जनरल ड्यूटी) के पदों के लिए आवेदन किए उम्मीदवारों को एडमिट कार्ड तथा परीक्षा केंद्र अलॉट किए जा चुके हैं। हरियाणा एसएससी ने हरियाणा पुलिस में ग्रुप सी स्तर पर 1100 फीमेल कांस्टेबल (जनरल ड्यूटी) और 698 फीमेल कांसटेबल फॉर एचएपी दुर्गा समेत कांस्टेबल की कुल 7298 रिक्तियों पर भर्ती के लिए 11 जनवरी से 25 फरवरी तक चलाई थी। अब इन पदों पर 18 और 19 सितंबर को पांच जिलों में परीक्षा आयोजित की जा रही है। ऐसे में परीक्षार्थी युवतियों के साथ उनके परिजनों का जाना भी लाजमी है। परीक्षा वाले दिन परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने में युवतियों व उनके परिजनों को कोई परेशानी न हो, इसके लिए जींद डिपो प्रबंधन ने परीक्षा केंद्रों के लिए स्पेशल बसों का संचालन किया जाएगा।

परीक्षा केंद्र दूर होने पर अभिभावकों में रोष

महिला कांस्टेबल की परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्र दूर होने के चलते परिजनों ने रोष भी जताया है। सरकार द्वारा पहले महिलाओं को जिला तथा आसपास जिलों में परीक्षा केंद्र होने के दावे किए गए लेकिन अब परीक्षा केंद्र 75 से 150 किलोमीटर दूर बनाए गए हैं। महिला कांस्टेबल परीक्षा के लिए हजारांे की संख्या में आवेदन किए गए हैं। अगर एक परीक्षार्थी के साथ एक परिजन भी साथ जाएगा तो यह संख्या में हजारों में पहुंच जाएगी। हालांकि अधिकतर परिजन निजी वाहनों के इंतजाम मेंभी लगे हैं। सुबह के सत्र में 10:30 से 12 बजे और शाम के सत्र में दोपहर बाद 3 बजे से साढ़े 4 बजे तक परीक्षा आयोजित होनी है।


Next Story