Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मामूली सी बात पर चार माह के बच्चे को महिला ने पिलाई तेजाब, दो दिन तड़पकर मासूम ने तोड़ा दम

पड़ोस की महिला पर आरोप है। आठ दिन पहले आरोपित महिला की बेटी के साथ मृतक बच्चे की बड़ी बहन का झगड़ा हो गया था।

मामूली सी बात पर चार माह के बच्चे को महिला ने पिलाई तेजाब, दो दिन तड़पकर मासूम ने तोड़ा दम
X

अपनी मां की गोद में बच्चा ( फाइल फोटो )

पानीपत : पानीपत में चार माह के एक मासूम को मामूली रंजिश में तेजाब पिला दी। इसके दो दिन तड़पने के बाद बच्चे की मौत हो गई। आरोप पड़ोस की एक महिला पर लगा है। पानीपत के बरसत रोड चुंगी के पास विकास नगर में एक महिला ने अपने पड़ोसी के 4 माह के बेटे को तेजाब पिला दिया। गुरुवार सुबह रोहतक पीजीआई से पानीपत लाने के दौरान बच्चे की मौत हो गई।

मूल रूप से उत्तरप्रदेश के जिला शाहजानपुर के हथगांव निवासी कांता ने बताया कि उसका पति विनोद मजदूरी करता है। वे तहसील कैंप के विकास नगर में किराए पर रहते हैं। उसके पड़ोस में ही उनके जिले के गांव पसियानी निवासी बीरपाल अपनी पत्नी लक्ष्मी और बच्चों के साथ रहता है। करीब आठ दिन पहले उनके चार साल की बेटी शालू का लक्ष्मी की बेटी नैना के साथ खेलते हुए झगड़ा हो गया था। बच्चों के झगड़े को लेकर उसकी लक्ष्मी के साथ कहासुनी हो गई। मंगलवार सुबह पति ड्यूटी पर चले गए। वह अपनी बेटी के साथ पीने का पानी लेने के लिए तीसरे फ्लोर से दूसरे फ्लोर पर आई। वापस अपने कमरे में पहुंची तो उसके कमरे से पड़ोसी लक्ष्मी भागती हुई निकली।

वह अंदर पहुंची तो चार महीने के बेटे हर्षित के मुंह से झाग निकल रहे थे। पास में ही फर्श पर तेजाब बिखरा हुआ था। उसने बाहर आकर शोर मचाया तो लक्ष्मी ने अपने कमरे का दरवाजा बंद कर लिया। बेटे की हालत बिगड़ती देख पति विनोद को बुलाया। बेटे को निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां से डॉक्टरों ने हर्षित को चिंताजनक हालत में पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया। वहां वेंटिलेटर न मिलने के कारण वह बुधवार को एंबुलेंस से बेटे को लेकर वापस पानीपत आ रहे थे। वीरवार की सुबह हर्षित ने दम तोड़ दिया।

डीएसपी सतीश वत्स ने बताया कि थाना किला क्षेत्र में निवास कर रहे उत्तर प्रदेश प्रवासी महिला के बेटे को तेजाब पिला कर मारने का मामला संज्ञान में आया है। हालांकि पीडित परिवार ने इस मामले की शिकायत थाना किला पुलिस से नहीं की है। बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए पानीपत सिविल अस्पताल में रखवा दिया गया है। बच्चे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट इस केस की जांच में अहम साबित होगी, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ही पता चल पाएगा कि बच्चे की मौत के क्या कारण रहे। उन्होंने कहा कि बच्चे की मौत के मामले की जांच में पुलिस गंभीर है, केस की जांच में जो भी आरोपित मिलेगा उस पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। वहीं सिटी थाना प्रभारी ने बताया कि मृतक मासूम के परिजनों की तरफ से अभी किसी पर केस दर्ज नहीं कराया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Next Story