Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

फोन पर किसी और से बात करती थी पत्नी, पति ने दी ऐसी खौफनाक मौत

पुलिस ने गांव बाबैन से लापता नेहा की गुत्थी सुलझाते हुए उसकी हत्या करने के आरोपित पति कथावाचक प्रशांत कौशिक व हत्या करके लाश को ठिकाने लगाने में सहयोग करने के आरोपित संदीप वासी सदरपुर थाना घरौंडा को गिरफ्तार किया है।

शादी से इंकार करने पर 17 वर्षीय लड़की की घर में घुसकर हथौड़े से की हत्या
X
हत्या (प्रतीकात्मक फोटो)

हरिभूमि न्यूज. कुरुक्षेत्र

पुलिस ने गांव बाबैन से लापता नेहा की गुत्थी सुलझाते हुए उसकी हत्या करने के आरोपित पति कथावाचक प्रशांत कौशिक व हत्या करके लाश को ठिकाने लगाने में सहयोग करने के आरोपित संदीप वासी सदरपुर थाना घरौंडा को गिरफ्तार किया है। उप पुलिस अधीक्षक लाडवा भारत भूषण ने बताया कि 2 फरवरी को प्रशांत कौशिक पुत्र छैल कौशिक वासी खैरी ने थाना बाबैन पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसने अपनी पत्नी नेहा को फोन पर किसी से बातें करते देखा था जिस कारण उनका आपस में मनमुटाव हो गया था और पचायंती लोगों की सहमति से उसके पास आई थी। पंचायती शर्तों के बाद भी उसने उसकी पत्नी को फोन का प्रयोग करते देखा था।

1 फरवरी को उनके सोने के बाद वह बिना बताये घर से कहीं चली गई। वह अपने मायके में भी नही गई थी। उसकी उन्होंने अपने तौर पर तलाश की पर कोई सुराग नहीं मिला। शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच उप निरीक्षक भाग सिंह को सौंपी गई। नेहा की तलाश के लिए पुलिस ने प्रशान्त कौशिक को सहयोग के लिए थाने में बुलाया। आरोपी पुलिस को गुमराह करता रहा। इसके बाद 7 फरवरी को प्रशांत कौशिक भी लापता हो गया। पुलिस की शक सुई प्रशांत कौशिक के सहायक रहे संदीप कुमार की तरफ घूम गई। पुलिस ने संदीप के घर दबिश दी। 21 फरवरी को संदीप को पिपली चौंक से गिरफ्तार किया गया। संदीप ने पुलिस के सामने नेहा की गुमशुदगी बारे सारा राज उगल दिया। पुलिस की गहनता से पूछताछ पर बताया कि नेहा गुम नहीं हुई है, बल्कि उसके पति प्रशांत कौशिक ने नेहा की हत्या करके उसके शव को जलाकर कार की डिग्गी में डालकर उसकी लाश को मधुबन के पास नहर में गिरा दिया। उन्होंने आपस में मिलकर उसकी लाश को मधुबन से उत्तर की तरफ नहर में फेंक दिया था। संदीप ने बताया कि प्रशांत कौशिक उससे 22 को रेलवे स्टेशन करनाल पर मिलने के लिए आने वाला है। आरोपी संदीप की पहचान पर आरोपी प्रशांत कौशिक को पुलिस ने रेलवे स्टेशन करनाल से काबू करके गिरफ्तार कर लिया। दोनों आरोपितों को माननीय अदालत में पेश करके आगामी जांच हेतु 10 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया।

Next Story