Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mosam Ki Jankari : प्रदेश में एक सप्ताह परिवर्तनशील रहेगा मौसम

पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव से 18 मार्च रात्रि व 19 मार्च को राज्य में पश्चिमी हरियाणा के कुछ एक स्थानों पर गरज चमक के साथ छिटपुट बूंदाबांदी होने की संभावना है।

चक्रवाती तूफान अंफान का असर अगले चौबीस घंटे में दिखेगा, इन राज्यों में हो सकती है भारी बारिश
X
Mausam Ki Jankari

हरिभूमि न्यूज : नारनौल

हरियाणा राज्य में पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव के कारण राज्य में मार्च के दूसरे सप्ताह में कुछ हिस्सों में छिटपुट हल्की बारिश व हवाएं चलने से बढ़ते तापमान में रोक लगी तथा दिन का तापमान 4-5 डिग्री सेल्सियस गिरकर सामान्य के आसपास आ गया है।

कृषि एवं मौसम विभाग के अधिकारी डा. एमएल खिचड़ ने बताया कि मार्च के इस सप्ताह (16-23 मार्च) में भी पश्चिमी विक्षोभ का राज्य में प्रभाव रहने की संभावना है, जिससे तापमान सामान्य के आसपास ही बने रहने की संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव से 18 मार्च रात्रि व 19 मार्च को राज्य में पश्चिमी हरियाणा के कुछ एक स्थानों पर गरज चमक के साथ छिटपुट बूंदाबांदी होने की संभावना है, परंतु 20 मार्च को मौसम आमतौर पर परिवर्तनशील रहने व बीच-बीच में आंशिक बादल रहने की संभावना है। एक अन्य पश्चिमी विक्षोभ, जो 21 मार्च रात्रि से मैदानी क्षेत्रों में प्रभाव देखने को मिलने की संभावना है, क्योंकि इस दौरान राजस्थान के पास एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बनने की संभावना से हरियाणा राज्य में 21 मार्च रात्रि से 23 मार्च के बीच हवाएं चलने व गरज-चमक के साथ कहीं-कहीं बूंदाबांदी/हल्की बारिश होने की भी संभावना है तथा इसके बाद 24 मार्च से उत्तर पश्चिमी हवाएं चलने से रात्रि तपमान में फिर से गिरावट आने की संभावना है।

मौसम आधारित कृषि सलाह

इस सप्ताह मौसम में लगातार बदलाव की संभावना को देखते हुए कुछ दिन विशेषकर गेहूं की फसल में सिंचाई रोक लें। हवाएं चलने की संभावना को देखते हुए सरसों की फसल जो पकने की अवस्था में है उसे कटाई कर ली है तो जल्दी से जल्दी निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर रखे या काटी फसल के बंडल अच्छी प्रकार से बांध लें ताकि हवाएँ चलने से उड़ न सके। हल्की बारिश व हवाएं चलने की संभावना को देखते हुए अगले कुछ दिन फसलों में स्प्रे रोक ले। यदि आवश्यक हो तो मौसम खुलने पर ही स्प्रे करे।

Next Story