Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा का यह गांव वायरल बुखार की चपेट में, हर घर बीमार, कोरोना के डर से अस्पताल नहीं जा रहे लोग

हालांकि गांव में न तो कोई कोरोना संक्रमित मरीज है और न ही डेंगू तथा मलेरिया का, लेकिन गांव पिछले एक सप्ताह से वायरल बुखार की चपेट में आया हुआ है। इससे ग्रामीणों में भय का माहौल है।

हरियाणा का यह गांव वायरल बुखार की चपेट में, हर घर बीमार, कोरोना के डर से अस्पताल नहीं जा रहे लोग
X

गांव रधाना में महिला का उपचार करते डॉक्टर।

हरिभूमि न्यूज. जींद

जींद शहर के साथ लगते गांव रधाना में ऐसा कोई घर नहीं है जिसका कोई सदस्य बुखार, सर्दी, खांसी या जुखाम से पीड़ित न हो। हालांकि गांव में न तो कोई कोरोना संक्रमित मरीज है और न ही डेंगू तथा मलेरिया का लेकिन गांव पिछले एक सप्ताह से वायरल बुखार की चपेट में आया हुआ है। इससे ग्रामीणों में भय का माहौल है और ग्रामीणों ने स्वास्थ्य विभाग से मांग की है कि गांव में सर्वे करवाकर दवाई उपलब्ध करवाई जाए।

लगभग पांच हजार की आबादी वाले गांव रधाना में पिछले एक सप्ताह से लोग वायरल बुखार की चपेट में आ रहे हैं। बुखार भी ऐसा कि पूरे शरीर को तोड़ कर रख रहा है। तीन से चार दिन तक बुखार रहता है, इसके बाद शरीर से कई दिनों तक थकान नहीं जाती। घर के एक सदस्य ठीक होता है तो उसी समय दूसरे को यह वायरल बुखार अपनी चपेट में ले ले रहा है। कई घर तो ऐसे हैं जहां एक ही परिवार के तीन-तीन सदस्य इसकी चपेट में हैं। ग्रामीण सुनील चहल, रणधीर सिंह, उमेद, संदीप का कहना है कि तीन से चार दिन तक बुखार रहता है उसके बाद पूरे शरीर में थकान होती है। वहीं वायरल बुखार के बाद कहीं कोरोना महामारी की चपेट में न जा आएं इसलिए ग्रामीण नागरिक अस्पताल में इलाज के लिए आने से घबरा रहे हैं। दरअसल कई लोग नार्मल खांसी-जुखाम के लिए नागरिक अस्पताल में दवा लेने आए थे लेकिन यहां से कोरोना लेकर चले गए। इसी का डर ग्रामीणों को है। हालांकि गांव में कोरोना को कोई भी कोरोना एक्टिव केस नहीं है लेकिन ग्रामीण कोरोना महामारी के डर से जिला मुख्यालय पर आने से घबरा रहे हैं।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा गांव में करवाया जाए सर्वे : नरेश चहल

गांव रधाना के सरपंच नरेश चहल ने स्वास्थ्य विभाग से मांग की कि गांव में सर्वे करवाया जाए। गांव में वायरल बुखार की दवा उपलब्ध करवाई जाए। इसके अलावा कुछ दिनों तक गांव में ही सैंपलिंग की सुविधा दी जाए।

मौसम में बदलाव से हो सकता है कारण : डा. राजेश

नागरिक अस्पताल के डिप्टी एमएस डा. राजेश भोला ने कहा कि मौसम में बदलाव की वजह से दिक्कतें आ सकती हैं। लोग सावधानी बरतें। स्वास्थ्य विभाग का पूरा स्टाफ कोरोना महामारी से निपटने में लगा है। आशा वर्कर्स या दूसरे स्टाफ को इस बारे बोल दिया जाएगा। वैसे गांव रधाना सीएचसी खरकरामजी के अधीन आता है। अगर किसी को कोरोना के लक्षण हैं तो वहां पर जाकर सैंपल दे सकता है।

Next Story