Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Sirsa : रोडवेज के दो क्लर्कों को विजिलेंस टीम ने 5000 की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया

रोडवेज कर्मचारी की शिकायत (Complaint) पर टीम ने कार्रवाई को अंजाम दिया है। ड्यूटी मजिस्ट्रेट तहसीलदार श्रीनिवास व विजीलेंस इंस्पेक्टर अनिल सोढी के नेतृत्व में टीम ने बस स्टेंड कार्यालय में छापेमारी की। क्लर्क ओमप्रकाश शर्मा को 5000 रूपये की रिश्वत लेते टीम ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया जबकि दूसरे क्लर्क पृथ्वी को उससे मिलीभगत के आरोप में काबू किया गया है।

Sirsa : रोडवेज के दो क्लर्कों को विजिलेंस टीम ने  5000 की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया
X

सिरसा। बस स्टैंड कार्यालय से दो क्लर्कों को विजिलेंस (Vigilance) हिसार व सिरसा की टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए 5000 की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। दोनों को विजिलेंस टीम ने हिरासत में ले लिया है और पूछताछ जारी है।

रोडवेज कर्मचारी की शिकायत पर टीम ने कार्रवाई को अंजाम दिया है। ड्यूटी मजिस्ट्रेट तहसीलदार श्रीनिवास व विजीलेंस इंस्पेक्टर अनिल सोढी के नेतृत्व में टीम ने बस स्टैंड कार्यालय में छापेमारी की। क्लर्क ओमप्रकाश शर्मा को 5000 रुपये की रिश्वत लेते टीम ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया जबकि दूसरे क्लर्क पृथ्वी को उससे मिलीभगत के आरोप में काबू किया गया है। दूसरे क्लर्क को हिरासत में लेने का रोडवेज कर्मचारियों ने विरोध किया। कर्मचारियों ने विजिलेंस टीम पर क्लर्क पृथ्वी को बेवजह फंसाने के आरोप जड़े और कार्रवाई का विरोध किया। बस स्टैंड परिसर में हंगामा भी किया। फिलहाल विजिलेंस दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

विजिलेंस इंस्पेक्टर अनिल सोढ़ी ने बताया कि रोडवेज कर्मचारी की शिकायत पर कार्रवाई की गई है। दोनों क्लर्कों से राशि बरामदगी हुई है। किसी के साथ कोई अन्याय नहीं किया गया। दोनों से पूछताछ की जा रही है।

बस स्टैंड कर्मचारी नेता रामकुमार चूरनियां ने कहा कि क्लर्क ओमप्रकाश ने विजिलेंस टीम ने राशि बरामद कर उसे हिरासत में लिया है। दूसरे क्लर्क पृथ्वी से कुछ भी बरामद नहीं हुआ। उसे बेवजह फंसाया जा रहा है। इसी को लेकर कर्मचारियों में रोष है। वे बैठक कर आगामी निर्णय लेंगे। उन्होंने मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की है।

Next Story