Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दो महिलाओं को दिनभर कोर्ट में खड़े रहने की सुनाई सजा, जानिये क्यों

एडीएसजे आरपी गोयल की कोर्ट ने दोनों को सबक सिखाते हुए सजा सुनाई। दोनों पर 500-500 रुपये का जुर्माना भी ठोका गया।

दो महिलाओं को दिनभर कोर्ट में खड़े रहने की सुनाई सजा, जानिये क्यों
X

हरिभूमि न्यूज:रोहतक

दुष्कर्म के मामले में गवाही से मुकरना दो महिलाओं को महंगा साबित हुआ। एडीएसजे आरपी गोयल की कोर्ट ने दोनों को सबक सिखाते हुए सजा सुनाई है। कोर्ट ने दोनों महिलाओं समेत अन्य गवाहों को दिन भर कोर्ट में खड़े रहने की सजा सुनाई। दोनों पर 500-500 रुपये का जुर्माना भी ठोका गया। एक कालोनी निवासी युवती ने जून 2018 में सिटी थाना में शिकायत दर्ज कराई।

युवती ने बताया कि नारनौल के रहने वाले एक युवक ने उससे शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया। जब पुलिस ने केस दर्ज किया तो आरोपित ने अगस्त 2018 में युवती से शादी कर ली। इस मामले में शिकायतकर्ता के अलावा उसका पिता, महिला मकान मालिक और एक अन्य व्यक्ति गवाह थे। कोर्ट में गवाह मुकर गए। जिसकी वजह से उन्हें सजा सुनाई गई।

कार में अपहरण कर दुष्कर्म का था आरोप

दूसरे मामले में थाना शिवाजी कालोनी क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली महिला ने मई 2017 में शिकायत दर्ज कराई। महिला ने आरोप लगाया था कि रात के समय पति से झगड़े के बाद वह परिजनों को बुलाने जा रही थी। तभी रास्ते में दो लोगों ने उसे पकड़कर अपहरण कर गाड़ी में डाल लिया। जिसमें एक व्यक्ति ने उसके साथ दुष्कर्म किया। पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपित को पकड़ा तो शिकायतकर्ता गवाही से मुकर गई। महिला को भी कोर्ट ने दिन भर खड़े रहने की सजा सुनाई गई।

Next Story