Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा में पौधों की देखभाल करेंगे वृक्ष मित्र

शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने बृहस्पतिवार को जगाधरी में अपने निवास स्थान पर आयोजित भाजपा पदाधिकारियों की बैठक के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए यह जानकारी दी।

हरियाणा में पौधों की देखभाल करेंगे वृक्ष मित्र
X

यमुनानगर के जगाधरी में अपने निवास स्थान पर पत्रकारों से बातचीत करते शिक्षा मंत्री कंवरपाल। 

हरिभूमि न्यूज : यमुनानगर

हरियाणा शिक्षा व वन एवं पर्यटन मंत्री कंवरपाल ने कहा कि प्रदेश को हरा-भरा बनाने के लिए विशेष पौधारोपण हेतु 1126 गांवों का चयन किया गया है। इन गांवों में पौधारोपण करने के साथ-साथ लगाए गए पौधों की उचित देखभाल के लिए गांव के एक युवा को वृक्ष मित्र लगाया गया है।

शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने बृहस्पतिवार को जगाधरी में अपने निवास स्थान पर आयोजित भाजपा पदाधिकारियों की बैठक के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कहा कि वर्ष 2020.21 में एक करोड़ 27 लाख पौधों के लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। वर्षा ऋतु के दौरान लगभग एक करोड़ पौधे लगाए जा चुके हैं और शेष लक्ष्य वित्त वर्ष के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में प्रदेश का चहुमुखी विकास करने के साथ-साथ पर्यावरण की सुरक्षा और प्रदेश को हरा-भरा बनाने के लिए भी प्रभावी योजनाएं लागू की जा रही हैं।

उन्होंने बताया कि वित्त वर्ष के दौरान पराली प्रबंधन के लिए 216.21 लाख रूपये की राशि का प्रावधान किया गया था ताकि पराली जलाने के मामलों में कमी लाने के लिए पराली प्रबंधन के आधुनिक यंत्र उपलब्ध करवाए जा सकें। सरकार के इन प्रयासों से पराली जलाने के मामलों में 60 से 70 प्रतिशत कमी दर्ज की गई है। इस समस्या से निपटने के लिए किसानों को जागरूक करने के साथ-साथ फसल अवशेष प्रबंधन के उपकरणों पर किसानों को 50 प्रतिशत और कस्टम हायरिंग सैंटर्स को 80 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि स्कूल के विद्यार्थियों को भी पौधागिरी योजना के तहत पौधारोपण और लगाए गए पौधों की देखभाल के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। इस वित्त वर्ष में इस योजना के तहत 8.88 लाख पौधे लगाए गए हैं। जल शक्ति अभियान के तहत भी इस वित्त वर्ष में 67.91 लाख क्लोनल सफेदा के पौधे लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश को हरा.भरा बनाने और स्वच्छता कार्यक्रमों को और अधिक प्रभावी बनाने में प्रदेश के हर व्यक्ति का सहयोग जरूरी है।

Next Story