Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Transformer चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश, 83 वारदातें कबूलीं

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों को अदालत में पेश कर रिमांड पुलिस हिरासत लिया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान आरोपियों की निशानदेही पर चोरीशुदा सामान बरामद किया जाएगा।

Transformer चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश, 83 वारदातें कबूलीं
X

ट्रांसफार्मर चोरी करने के आरोपित पुलिस की गिरफ्त में। 

सिरसा : जिला की सीआईए कालांवाली पुलिस ने महत्वपूर्ण सुराग जुटाते हुए ट्रांसफार्मर चोरी करने वाले एक अंतर राज्य गिरोह का पर्दाफाश कर चार लोगों को काबू करने में बड़ी सफलता हासिल की है । इस संवंध में जिला के पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के कब्जा से वारदात में प्रयुक्त दो गाडियां व काफी मात्रा में औजार बरामद किए है।

उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान त्रिलोक सिंह पुत्र माछी सिंह,सुखदेव सिहं उर्फ राजू पुत्र जंगीर सिंह निवासियान रावला मंडी राजस्थान, मांगे लाल पुत्र हंसराज व सुखविंद्र सिंह उर्फ सोनू पुत्र जगदीश निवासियान 16 केएनडी घड़साना जिला गंगानगर राजस्थान के रुप में हुई है । उन्होंने बताया कि सिरसा जिला के डववाली,कालांवाली ओढ़ा व नाथूसरी चौपटा क्षेत्रों में पिछने कई दिनों से ट्रांसफार्मर चोरी की घटनाएं हुई थी।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मामलें की गंभीरता को देखते हुए जिला की सीआईए कालांवाली व डबवाली की पुलिस टीमों का गठन कर चोरी की इन घटनाओं को सुलझाने के निर्देश दिए गए थे। उन्होंने बताया कि सीआईए कालांवाली प्रभारी उप निरीक्षक राजपाल के नेतृत्व में गठित टीम जिसमें सहायक उप निरीक्षक अवतार सिंह,मदन,रामफल व अन्य पुलिस कर्मी शामिल थे जिन्होने महत्वपूर्ण सुराग जुटाते हुए आरोपियों को काबू कर लिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों को अदालत में पेश कर रिमांड पुलिस हिरासत लिया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान आरोपियों की निशानदेही पर चोरीशुदा सामान बरामद किया जाएगा ।

पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों ने प्रारंभिक पूछताछ में डबवाली,कालांवाली,ओढ़ा व नाथूसरी चौपटा,फतेहाबाद जिला के भटटू तथा पंजाब व राजस्थान के कई क्षेत्रों से ट्रांसफार्मर चोरी की वारदातें करनी स्वीकार की है। उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में अब तक 83 वारदातें करनी कबूल की है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों से पूछताछ की जा रही है और पूछताछ के दौरान अन्य वारदातों व गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में खुलासा होने की संभावना से भी इंकार नही किया जा सकता।

Next Story