Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अब वर्दी पर 'तीसरी आंख' लगाकर नजर रखेेंगे ट्रैफिक पुलिसकर्मी

शहर की सड़कों पर लोगों की सुरक्षा और नियमों की पालना करवाने में लगे पुलिसकर्मियों पर आपकों बॉडी कैमरे लगे दिखाई देंगे जिनमें रिकॉर्ड हो रही गतिविधियों से घटनास्थल की हर गतिविधि का सच सामने आ पाएगा।

Exclusive: दिल्ली ट्रैफिक पुलिस का बड़ा फरमान, 1.5 लाख चालान होंगे वापस, जानें पूरा मामला
X

हरिभूमि न्यूज. कुरुक्षेत्र

अब पुलिसकर्मियों से उलझना उन रसूखदारों और लापरवाह वाहन चालकों को महंगा पड़ सकता है जो आए दिन अपनी पहुंच के चलते शहर के विभिन्न नाकों पर तैनात पुलिसकर्मियों से उलझ पड़ते थे। इतना ही नहीं कईं बार लापरवाह वाहन चालक और खासकर कोविड-19 की गाईडलाइन की उल्लंघना करने वाले चालक खुद का सच्चा और डयूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों को झूठा बताते हुए उन पर बेवजह झूठे आरोप भी लगा देते थे।

भविष्य में अब ऐसा नहीं होगा क्योंकि अब शहर की सड़कों पर लोगों की सुरक्षा और नियमों की पालना करवाने में लगे पुलिसकर्मियों पर आपकों बॉडी कैमरे लगे दिखाई देंगे जिनमें रिकॉर्ड हो रही गतिविधियों से घटनास्थल की हर गतिविधि का सच सामने आ पाएगा। पुलिस की कार्यशैली में पारदर्शिता लाने को लेकर अब पुलिसकर्मियों को बॉडी कैमरा उपलब्ध करवा दिए गए हैं। इसकी शुरुआत ट्रैफिक पुलिस कर्मियों से की गई है। तीन ट्रैफिक थानों में तैनात कर्मी डयूटी के दौरान तीसरी आंख से वाहन चालकों के व्यवहार पर नजर बनाए रखेंगे। अब कोई भी चालक पुलिस कर्मियों से बेवजह नहीं उलझेगा। जानकारी देते हुए पुलिस उपाधीक्षक सुभाष चंद ने बताया कि पिछले काफी समय से यातायात नियमों की अवहेलना करने वाले वाहन चालकों के खिलाफ पुलिस कप्तान हिमांशु गर्ग द्वारा यातायात के अलग से दो थाने बढ़ाकर संख्या तीन कर दी थी।

इन थानों में तैनात पुलिस कर्मियों को अवहेलना करने वाले वाहन चालकों पर लगाम कसने को लेकर अनेकों स्थानों पर चैकिंग करनी पड़ती है। चैकिंग के दौरान कईं वाहन चालक अपनी कमियों को छिपाते हुए ट्रैफिक पुलिस कर्मियों से उलझते थे। वहीं इनके खिलाफ बेबुनियाद आरोप भी लगाते थे। जबकि सच्चाई कुछ और ही होती थी। इन थानों में तैनात पुलिसकर्मियों में आमजन के बीच पारदर्शिता लाने को लेकर पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग ने अब इन कर्मियों को बॉडी कैमरा के रूप में तीसरी आंख भी उपलब्ध करवा दी है।

Next Story