Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कल 24 गांवों के किसान गांव मोहना में करेंगे पंचायत

हालांकि प्रशासन ने सोमवार 25 जनवरी को सेक्टर.12 लघु सचिवालय में किसानों और भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों की बैठक बुलाई है।

कल 24 गांवों के किसान गांव मोहना में करेंगे पंचायत
X

फरीदाबाद। पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट द्वारा बढ़ाए गए मुआवजे के नहीं मिलने से नाराज 24 गांवों के किसान रविवार को गांव मोहना में पंचायत करेंगे। इसमें किसान द्वारा गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर परेड निकालने की तैयारी को लेकर चर्चा की जाएगी।

हालांकि प्रशासन ने सोमवार 25 जनवरी को सेक्टर.12 लघु सचिवालय में किसानों और भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों की बैठक बुलाई है। इस बैठक में प्रशासन की तरफ से उपायुक्त, जिला राजस्व अधिकारी भी शामिल होंगे।

एनएचएआइ ने 2008 में नौ गांव फरीदाबाद और 15 गांव पलवल के किसानों की जमीन केजीपी एक्सप्रेस.वे के लिए 16 लाख रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से अधग्रिहण की थी। किसान मुआवजे से खुश नहीं थे। मुआवजा बढ़ाने की मांग को लेकर किसान पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट चले गए।

हाई कोर्ट ने किसानों की सुनवाई करने के लिए अतिरक्ति उपायुक्त को आर्बिटेटर नियुक्त किया था। तत्कालीन अतिरक्ति उपायुक्त जितेंद्र दहिया ने मामले की सुनवाई करते हुए 2018 में अपना अवार्ड सुना कर एनएचएआइ को 68 लाख रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से मुआवजा किसानों को देने के आदेश दिए थे, पर तब से लेकर अब तक एनएचआइ ने अभी तक किसानों को ये मुआवजा नहीं दिया है।

ईस्टर्न पेरिफेरल किसान संघर्ष समिति के प्रधान राजेश भाटी का कहना है कि प्रशासन ने उन्हें सोमवार को बातचीत करने के लिए बुलाया है। अतिरक्ति उपायुक्त सतबीर मान ने फोन करके इस बारे में सूचना दी है। बैठक में एनएचएआइ अधिकारियों को भी बुलाया गया है।

किसान प्रशासन के साथ बातचीत करेंगे और मोहना गांव में पंचायत करके गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड निकालने की तैयारी भी करेंगे। ट्रैक्टरों के आगे पांच मोटरसाइकिल चलेंगी, जिससे लोगों को परेशानी न हो। ट्रैक्टर परेड ग्राउंड सेक्टर-12 में झंडा को सलामी देने के बाद घरों को लौट जाएंगे।

Next Story