Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुंहखुर व गलघोंटू बीमारी : घर-घर जाकर पशुओं के टैग लगाकर होगा टीकाकरण

इस अभियान के तहत राज्य में गायों और भैंसों की टैगिंग की जाएगी ताकि पशुपालक टीकाकरण व अन्य सुविधाओं का लाभ उठा सकें।

मुंहखुर व गलघोंटू बीमारी : घर-घर जाकर पशुओं के टैग लगाकर होगा  टीकाकरण
X

पशु 

हरियाणा पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग द्वारा चलाए जा रहे गलघोंटू व मुंहखुर टीकाकरण अभियान के तहत पशु चिकित्सकों के नेतृत्व में गठित की गई 28 टीमों द्वारा घर-घर जाकर पशुओं के टैग लगाकर टीकाकरण किया जा रहा है। टैग लगाने के साथ-साथ पशुओं का रजिस्ट्रेशन भी ऑनलाइन किया जा रहा है। एक सरकारी प्रवक्ता ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि इस अभियान के तहत राज्य में गायों और भैंसों की टैगिंग की जाएगी ताकि पशुपालक टीकाकरण व अन्य सुविधाओं का लाभ उठा सकें।

उन्होंने बताया कि मुंहखुर व गलघोंटू की संयुक्त वैक्सीन लगाई जा रही है क्योंकि गलघोंटू एक जानलेवा बीमारी है और मुंहखुर के कारण पशु के दूध देने की क्षमता घट जाती है जिससे पशुपालकों को भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है। इस वैक्सीन का टीकाकरण हो जाने पर पशु काफी हद तक सुरक्षित हो जाते हैं।

उन्होंने पशुपालकों से आग्रह किया कि वे 4 माह से छोटे बछड़े, बछडिय़ों व 7 माह से अधिक ग्याभिन पशुओं को छोडक़र सभी गायों, भैंसों का टीकाकरण अवश्य करवाएं ताकि पशुधन का मुंहखुर तथा गलघोटू जैसी संक्रामक बीमारियों से बचाव सुनिश्चित हो सकें।

Next Story