Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सोनीपत की दो सगी बहनों समेत तीन युवती ऋषिकेश में गंगा में डूबी, परिवार सहित गई थीं नहाने

गंगा में बही 34 वर्षीय सीमा गन्नौर के गांव पांची जाटान, उसकी बहन 36 वर्षीय कुसुम गांव खानपुर कला व 24 वर्षीय नेहा गढ़ीकेसरी हरिनगर कालोनी की रहने वाली थी, तालाश में जुटा है स्थानीय प्रशासन, अभी तक नहीं लगा सुराग।

सोनीपत की दो सगी बहनों समेत तीन युवती ऋषिकेश में गंगा में डूबी, परिवार सहित गई थीं नहाने
X

नेहा शर्मा का फाइल फोटो और घर के बाहर बैठे उसके पिता सतबीर व स्वजन।

गन्नौर ( सोनीपत )

ऋषिकेश में हरिपुरकलां के रायवाला में गीता कुटीर घाट पर स्नान के लिए उतरी दो सगी बहनें व एक युवती गंगा के तेज लहर के साथ बह गई। दो सगी बहनों में 34 वर्षीय सीमा गन्नौर के गांव पांची जाटान हाल सोनीपत जीवन नगर वासी, जबकि उसकी बहन 36 वर्षीय कुसुम गांव खानपुर कला हाल सोनीपत जीवन नगर की रहने वाली है। उनके साथ बही युवती 24 वर्षीय नेहा उनके जीजा की बहन है, जो गन्नौर के गढ़ी केसरी हरिनगर कालोनी की रहने वाली है। गंगा में बही दोनों बहनें व युवती अपने-अपने स्वजनों के साथ तीन अलग-अलग गाड़ियों में शनिवार देर शाम हरिद्वार में स्नान करने निकले थे।

परिवार के सामने ही गंगा के तेज बहाव में बही

हरिनगर कालोनी निवासी मोनू अपने परिवार के साथ गाड़ी में हरिद्वार गया था। मोनू की साली कुसुम और उसका परिवार भी अलग-अलग गाडिय़ों में साथ ही निकले थे। रविवार सुबह सभी लोग घाट पर नहाने गए थे। जब नेहा, कुसुम व सीमा गंगा में नहाने उतरी तो परिवार के सदस्यों के सामने ही तीनों बह गई। परिवार वालों ने उन्हें ढूंढने का प्रयास किया, लेकिन उनका कहीं पता नहीं चला। जिसके बाद उन्होंने रायवाला थाने में मामले की सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और एसडीआरएफ व गोताखोरों की मदद से खोजबीन शुरू कर दी, लेकिन तीनों का कोई पता नहीं चल सका है।

नेहा की इसी महीने छत्तीगढ़ के रायपुर में होनी थी ज्वाइनिंग

हरिनगर कालोनी निवासी नेहा गन्नौर के निजी स्कूल में शिक्षिका है और घर में बच्चों को ट्यूशन भी पढ़ाती है। जेबीटी व एमएड की पढ़ाई करने के साथ ही उसने एचटेट व सीटेट की परीक्षा भी पास की है। नेहा ने हाल में ही छत्तीगढ़ के रायपुर में बतौर शिक्षिका पद के लिए आवेदन किया था, जिसमें उसका चयन हो गया है। नेहा के पिता सतबीर ने बताया नेहा की इसी माह छत्तीगढ़ के रायपुर में ज्वाइनिंग भी है, लेकिन उनके साथ यह घटना घट गई। नेहा उनके साथ हरिद्वार नहीं जाना चाहती थी, लेकिन वे जबरदस्ती नेहा को अपने साथ ले गए थे, लेकिन उन्हें नहीं पता था कि नेहा के साथ यह घटना घट जाएगी। सीमा के पति नरेंद्र सोनीपत में दूध की डेयरी का काम करते हैं, जबकि कुसुम के पति राजेश दिल्ली बिजली विभाग में कार्यरत है। वह पिछले कई सालों से सोनीपत जीवन नगर में ही रहते हैं।

Next Story