Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी, परेशान युवक ने की आत्महत्या

मृतक के बड़े भाई विकास ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि लगभग साढ़े तीन साल पहले मोहल्ले की ही एक युवती ने मीनू के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज करवाया था, जो झूठा था। उसी मामले में मीनू एक माह जेल में भी रह चुका था। अब युवती के परिजन बार-बार मीनू को धमकी देकर बड़े मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रहे थे और उसे परेशान किया जा रहा था। पुलिस ने फिलहाल युवती समेत नौ लोगों के खिलाफ आत्महत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है।

झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी, परेशान युवक ने की आत्महत्या
X

पोस्टमार्टम के लिए कागजी कार्रवाई करते हुए पुलिस कर्मी।

हरिभूमि न्यूज. जींद

गांव करसिंधू में झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देने से खफा युवक ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक पर छेड़छाड़ के आरोप थे और वह एक माह जेल में भी रह चुका था। उचाना थाना पुलिस ने मृतक के भाई की शिकायत पर युवती समेत उसके नौ परिजनों के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गांव करसिंधू निवासी मीनू (25) ने बीती देर शाम अपने घर में फांसी का फंदा लगा लिया। इतफाकिया घटना का परिजनों को तुरंत पता चल गया। जिस पर उसे फंदे से उतार गंभीर हालात में सामान्य अस्पताल पहुंचाया गया। जहां चिकित्सकों ने मीनू को मृत घोषित कर दिया। मीनू के बड़े भाई विकास ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि लगभग साढ़े तीन साल पहले मोहल्ले की ही एक युवती ने मीनू के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज करवाया था, जो झूठा था। उसी मामले में मीनू एक माह जेल में भी रह चुका था। अब युवती के परिजन बार-बार मीनू को धमकी देकर बड़े मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रहे थे और उसे परेशान किया जा रहा था। मामले को लेकर लोकल स्तर पर पंचायत भी हुई लेकिन समझौता नहीं हुआ। अब उस मामले का फैसला नजदीक था। युवती के परिजन उसके भाई मीनू को छेड़छाड़ के झूठे मुकदमे में सजा करवाने की धमकी भी दे रहे थे। जिससे खफा होकर उसके भाई ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।

उचाना थाना पुलिस ने विकास की शिकायत पर मुकदमा दर्ज करवाने वाली युवती, परिवार के वीरभान, देवा, बलिंद्र, गुलाब, जगबीर, मोहन, तेजू, बलदेवा के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज किया है। सोमवार को पुलिस ने मृतक के शव का सामान्य अस्पताल में पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। उचाना थाना के जांच अधिकारी सतीश ने बताया कि मृतक युवक के परिजनों ने नौ लोगों पर आत्महत्या के लिए मजबूर करने की शिकायत दी थी। फिलहाल युवती समेत नौ लोगों के खिलाफ आत्महत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है।

Next Story