Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बढ़ने लगे कोरोना केस : मास्क न लगाने वालों पर फिर होगी सख्ती

पड़ोसी राज्यों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा होने को लेकर अनिल विज ने एक बार फिर लापरवाही दिखाने वालों से सख्ती से निपटने का आदेश जारी कर दिया है।

मास्क न पहनने वालों पर राजस्थान पुलिस की सख्ती, अब तक काटे जा चुके हैं ढाई लाख से अधिक लोगों के चालान
X

हरियाणा के पड़ोसी राज्यों दिल्ली, पंजाब और राजधानी चंडीगढ़ में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा होने को लेकर सेहत मंत्री हरियाणा अनिल विज ने गंभीरता दिखाते हुए एक बार फिर से लापरवाही दिखाने वालों से सख्ती से निपटने का आदेश जारी कर दिया है। एक बार फिर से बिना मास्क के घूमने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा।

देश के कईं प्रदेशों में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों को लेकर अब सरकार ने सख्त रवैया अपनाने का मन बना लिया है। गुरुवार की देर शाम को मंत्री विज ने अपने हरियाणा सचिवालय स्थित आफिस में अफसरों के साथ में मंथन किया औऱ गत पिछले दो सप्ताह की समीक्षा करते हुए स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर गंभीरता दिखाई है। उन्होंने मंत्री अनिल विज ने कहा कि अब से प्रदेश में मास्क पहनना अनिवार्य होगा और ऐसा नहीं करने पर पुलिस के द्वारा जुरमाना भी किया जाएगा। गौरतलब है कि कुछ समय पहले मास्क पहनने को लेकर प्रशासन के द्वारा ढील दी गई थी। लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सरकार ने फिर से सख्त कदम उठाने का फैसला किया है।

सेहतमंत्री ने कहा सख्ती से निपटें

अंतरराष्ट्रीय स्तर सिरदर्द बनी कोरोना संक्रमण की समस्या के लिए विज ने गंभीरता दिखाते हुए लोगों से लापरवाही नहीं करने को कहा है, उन्होंने कहा कि अभी भी संक्रमण के कारण मामले बढ़ रहे हैं, इसीलिए जरूरी है कि मास्क पहनने, दूरी बनाए रखने, सेनिटाइजर का इस्तेमाल करना बेहद ही जरूरी है। घर से बाहर निकलने से पहले मास्क लगाना बेहद ही अनिवार्य है, नियमों का उल्लंघन करने वालों के साथ में सख्ती से निपटा जाएगा। पूर्व में भी हरियाणा पुलिस ने मास्क नहीं पहनने वालों के जमकर चालान काटे थे। प्रदेशभर के विभिन्न जिलों में एक करोड़ से भी ऊपर जुरमाना वसूला गया था। अब एक बार फिर से लोग लापरवाही करने लगे हैं, इसीलिए संक्रमण रोकने के लिए जरूरी है कि सख्ती की जाए।

प्रदेश में सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने, मास्क लगाने के साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर थूकने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। लोगों को अब गलतफहमी हो गई है कि कोरोना पूरी तरह से समाप्त हो गया है। लेकिन यह समाप्त नहीं हुआ बल्कि यह बेहद ही खतरनाक वायरस है। विज ने साफ कर दिया है कि इस महामारी और आपातकाल में डिजास्टर मैनेजमेंट की धाराओं में भी कईं तरह के प्रावधान हैं, लाक डाउन का उल्लंघने करने और नहीं मानने वालों पर पहले भी कार्रवाई की गई है। इसीलिए आने वाले दिनों में भी लोगों को नियमों कानूनों का पालन करना चाहिए ताकि उनका बचाव बना रहे।

Next Story