Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तीसरा मोर्चा समय की जरूरत, राहुल गांधी पर सवाल को टाल गए पूर्व मुख्यमंत्री चौटाला

सार्वजनिक समारोह में रेवाड़ी पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ( former Chief Minister Omprakash Chautala) ने कहा कि कंडेला में ना तो कोई कांड हुआ था और ना ही किसी किसान की मौत। कांड तो भाजपा-जजपा सरकार (BJP-JJP Government) ने हाल ही में करनाल में किया है।

तीसरा मोर्चा समय की जरूरत, राहुल गांधी पर सवाल को टाल गए पूर्व मुख्यमंत्री चौटाला
X

रेवाड़ी : रेवाड़ी में कार्यकर्ता मिलन समारोह के दौरान मंच पर उपस्थित नेता व सभा में उपस्थित कार्यकर्ता।

हरिभूमि न्यूज, रेवाड़ी

जेल से छुटने के बाद पहली बार सार्वजनिक समारोह में रेवाड़ी पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने कहा कि कंडेला में ना तो कोई कांड हुआ था और ना ही किसी किसान की मौत। कांड तो भाजपा-जजपा सरकार ने हाल ही में करनाल में किया है। जिसमें एक किसान की मौत हो हो चुकी है।

देश की वर्तमान परिस्थितियों में तीसरा मोर्चा समय की जरूरत है। जिसके लिए समान विचारधारा के दलों को एकजुट करने के प्रयास किए जा रहे हैं। राहुल गांधी को तीसरे मोर्चा में प्रधानमंत्री बनाने के सवाल को पूर्व मुख्यमंत्री टाल गए। उन्होंने बुधवार को बावल रोड स्थित एक समारोह स्थल में आयोजित इनेलो कार्यकर्ताओं के मिलन समारोह के दौरान पत्रकार वार्ता के दौरान यह बात कही।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान किसी भी देश के विकास की रीढ़ होते हैं। किसानों की खुशहाली से ही देश की खुशहाली है। चौ. देवीलाल ने किसानों के हित में बहुत सी योजनाएं लागू की थी और किसानों की फसलों का एक-एक दाना समर्थन मूल्य पर खरीदा जाता था। जबकि यह सरकार केवल किसानों की फसलों का समर्थन मूल्य तय करती है खरीदती नहीं। किसानों की जमीन हड़पने के लिए सरकार नया कानून लेकर आई है। जिसमें एक दिन के नोटिस पर जमीन अधिग्रहण की पॉवर तहसीलदार स्तर के अधिकारियों को दी गई है। जिससे एक दिन में जमीन अधिग्रहण होने पर किसानों को अपना ट्यूबवैल निकालने का भी समय नहीं मिलेगा। इससे पहले उन्होंने कार्यकर्ताओं को 25 सितंबर को जींद में आयोजित होने वाले सम्मान समारोह में शामिल होने का न्यौता देते हुए संगठन को मजबूत बनाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि उनके जेल आने के बाद पार्टी से अलग हुए कार्यकर्ताओं को फिर पार्टी से जोड़ने की जरूरत बताई। उन्होंने कहा कि बेमेल भाजपा-जजपा गठबंधन लंबे समय तक नहीं चलेगा।

सीएम मनोहर लाल पर तंज कसते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अपने कार्यकाल में मैं गांव-गांव जाकर जनता की शिकायतें सुनता था। जबकि वर्तमान मुख्यमंत्री शिकायत लेकर अपने पास आने वाले लोगों पर ही लाठी बरसाते हैं। जिस कारण चंडीगढ़ का सीएम आवास हमेशा सूनसान नजर आता है। ऐलनाबाद उपचुनाव में हार के डर से सरकार चुनाव को टाल रही है तथा उपचुनाव के बाद मचने वाली भगदड़ से सरकार का गिरना तय है। ऐसे में कार्यकर्ता अभी से मध्यवति चुनाव की तैयारियों में जुट जाए।

Next Story