Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऐसे अफसरों की बढ़ गई है चिंता, जिनके पास है दो दो आवास

इस तरह की शिकायतों को लेकर प्रदेश के गृहमंत्री अनिल विज ने इसकी पड़ताल के निर्देश जारी कर दिए हैं। इसके बाद में दो-दो बंगले रखने वाले अफसरों की चिंता बढ़ती नजर आने लगी है।

अनिल विज
X

 हरियाणा के स्वास्थ्य, आयुष एवं गृहमंत्री अनिल विज

चंडीगढ़। प्रदेश में एक अफसर के नाम पर दो-दो सरकारी बंगलों को लेकर अब सवाल उठने लगे हैं। इतना ही नहीं पुलिस महकमे में इस तरह के अफसरों को सूचीबद्ध कर कुछ शिकायतें गृह विभाग के पास में पहुंचीं हैं।

इस तरह की शिकायतों को लेकर प्रदेश के गृहमंत्री अनिल विज ने इसकी पड़ताल के निर्देश जारी कर दिए हैं। इसके बाद में दो-दो बंगले रखने वाले अफसरों की चिंता बढ़ती नजर आने लगी है।

भरोसेमंद सूत्रों का कहना है कि प्रदेश के गृह मंत्री, मुख्य सचिव, सीएम, डिप्टी सीएम को भेजी शिकायत में इस तरह के वरिष्ठ प्रशासनिक और पुलिस अफसरों का जिक्र किया गया है, जिन्होंने दो स्थानों पर आवास बनाए रखने के लिए दोहरे प्रभार लिए हुए हैं।

सूत्र बताते हैं कि खासतौर पर पुलिस अफसरों के मामले की शिकायत गृहमंत्री अनिल विज और एसीएस होम, मुख्य सचिव हरियाणा सरकार के पास भेजी गई है। इनमें प्रदेश में पर्याप्त आईपीएस अफसर होने का जिक्र किया गया है, उसके बावजूद भी चंद अफसरों के पास में दोहरे-दोहरे प्रभार होने पर हैरानी जताते हुए इसके पीछे राजधानी चंडीगढ़ अथवा जिलों के साथ-साथ दिल्ली एनसीआर में भी सरकारी आवास की सुविधा बनाए रखना बड़ा कारण बताया जा रहा है।

हालांकि सरकारी बंगलों और कोठियों की पहले से कमी बनी हुई है, अफसर इसके लिए अपना नंबर आने की प्रतीक्षा में रहते हैं, वहीं इस रह के माहौल में एक अफसर के पास में दो बंगले होने के कारण हरियाणा सरकार को होने वाले राजस्व की हानि का जिक्र किया गया है।

हालांकि वरिष्ठ प्रशासनिक अफसरों के मामले में भी कुछ इस तरह की शिकायतें हैं लेकिन वहां पर दोहरे प्रभार के बडे़ कारण बताए जा रहे हैं। कुल मिलाकर गृह विभाग में एक एक अफसर के नाम पर दो बंगलों को लेकर खुद गृहमंत्री ने ब्योरा तलब कर लिया है, इतना ही नहीं इसकी पड़ताल करने के लिए भी विभागीय अफसरों को निर्देश जारी करने के बाद में अधिकारियों की चिंता बढ़ती नजर आ रही है।

Next Story