Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अधिकारी-कर्मचारियों को ट्रैंड कर काम में फरवर्ट बनाएगी सरकार

हरियाणा सरकार द्वारा सभी वर्गों के कर्मचारियों और अधिकारियों की कार्यशैली (Working style) में और अधिक दक्षता लाने तथा नवीन तकनीकों से प्रशिक्षित करने के लिए अगले दो वर्षों में प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

अधिकारी-कर्मचारियों को ट्रैंड कर काम में फरवर्ट बनाएगी सरकार
X

चंडीगढ

हरियाणा सरकार द्वारा सभी वर्गों के कर्मचारियों और अधिकारियों की कार्यशैली (Working style) में और अधिक दक्षता लाने तथा नवीन तकनीकों से प्रशिक्षित करने के लिए अगले दो वर्षों में प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

इन सभी को आरंभिक प्रशिक्षण के साथ-साथ सर्विस के दौरान भी प्रशिक्षित किया जाएगा। इसके लिए हरियाणा लोक प्रशासन संस्थान (हिपा) एपेक्स प्रशिक्षण संस्थान होगा।

यहां हरियाणा की मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा की अध्यक्षता में राज्य प्रशिक्षण परिषद की पहली बैठक में दी गई। बैठक वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से आयोजित की गई जिसमें विभिन्न विभागों के अतिरिक्त मुख्य सचिव,पुलिस महानिदेशक, विश्वविद्यालय एवं अन्य प्रशिक्षण संस्थानों के अधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में अरोड़ा ने प्रशिक्षण देने के लिए सभी विभागाध्यक्षों को अगले दो दिनों में नोडल अधिकारी नियुक्त करने और एक सप्ताह में कर्मचारियों को दिए जाने वाले प्रशिक्षण संबंधित योजना को तैयार करने के निर्देश दिए।

इसके अलावा, विभाग इन-हाउस प्रशिक्षण के लिए 'मास्टर ट्रेनर्स' की पहचान भी करें। उन्होंने सभी विश्वविद्यालयों को निर्देश दिये कि वे हिपा के साथ समन्वय स्थापित करें ताकि उनके संस्थानों का प्रयोग प्रशिक्षण के लिए किया जा सके। उन्होंने कहा कि अधिकारियों एवं कर्मचारियों के प्रशिक्षण केलिए कार्यरत एवं रिटायर्ड अधिकारियों को भी शामिल किया जाए।

अरोड़ा ने कहा कि प्रशिक्षण प्रकोष्ठ में एक वेब-पोर्टल भी तैयार किया जायेगा जिसमें प्रशिक्षण कार्यक्रमों की निगरानी, रिपोर्टिंग,प्रतिक्रिया, विश्लेषण संबंधित जानकारियां शामिल होंगी। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के लिए रिर्सोस पर्सन भी बुलाये जायेंगे। प्रशिक्षण ऑनलाइन एवं ऑफलाइन माध्यम से दिया जाएगा।

प्रशिक्षण के लिए हिपा में आडियो-वीडियो विंग स्टूडियो सहित स्थापित किया जा जाएगा। हिपा अच्छी पहलों एवं नई पद्घतियों केदस्तावेज तैयार करेगा। यहभी जानकारी दी गई कि मुख्य सचिव कार्यालय की प्रशिक्षण शाखा नोडल विभाग के रूप में कार्य करेगा।

नोडल विभाग प्रशिक्षण मैनुअल, वार्षिक प्रशिक्षण योजनाओं और परिप्रेक्ष्य योजनाओं की तैयारी में सभी विभागों / प्रशिक्षण संस्थानों को दिशा-निर्देश प्रदान करेगा। बैठक में बताया कि प्रशिक्षण प्राप्त कर्मचारियों की जानकारियां मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली (एचआरएमएस) में शामिल की जायेंगी ताकि उनसे प्रशिक्षण की फीडबैक ली जा सके।


और पढ़ें
Next Story