Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Faridabad में युवक का शव पोस्टमार्टम हाउस से हुआ गायब

शनिवार को सोनू के शव (Dead body) का पोस्टमार्टम होना था। सुबह से परिजन सिविल अस्पताल (Civil hospital) में आकर बैठ गए थे। दोपहर को जब पुलिसकर्मी पोस्टमार्टम के कागज तैयार कर अस्पताल पहुंचा और जांच की तो पता चला कि वहां सोनू का शव ही नहीं है।

Faridabad में युवक का शव पोस्टमार्टम हाउस से हुआ गायब
X
फरीदाबाद। युवक का शव गायब होने के बाद सिविल अस्पताल बादशाह खान में डीसीपी एनआईटी से बातचीत करते प्रदेश कांग्रेस महासचिव बलजीत कौशिक।

फरीदाबाद। बल्लभगढ़ क्षेत्र की सुभाष कॉलोनी में शुक्रवार रात दो गुटों में हुए झगड़े (Fights) में चाकुओं से गोदकर एक युवक की हत्या कर दी गई थी। मृतक सोनू खान का शव शनिवार को सिविल अस्पताल के पोस्टमार्टम हाउस से गायब हो गया। पोस्टमार्टम हाउस के कर्मचारियों ने उसे कोरोना (Corona) संक्रमित लावारिस व्यक्ति का शव समझ कर नगर निगम कर्मचारियों को सोनू का शव अंतिम संस्कार के लिए सौंप दिया। शव गायब होने की सूचना के बाद परिजनों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। पुलिस ने मृतक के परिजनों की शिकायत पर अस्पताल प्रशासन के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

उल्लेखनीय है कि बीती रात बगभगढ़ की सुभाष कॉलोनी में दो गुटों के बीच हुए झगड़े में सोनू खान नाम के युवक की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने रात को ही शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया था। शनिवार को सोनू के शव का पोस्टमार्टम होना था। सुबह से परिजन सिविल अस्पताल में आकर बैठ गए थे। दोपहर को जब पुलिसकर्मी पोस्टमार्टम के कागज तैयार कर बीके अस्पताल पहुंचा और जांच की तो पता चला कि वहां सोनू का शव ही नहीं है। इस पर पुलिसकर्मी, शवगृह में तैनात कर्मचारियों व अस्पताल प्रशासन के हाथ पांव फूल गए। मौके पर पहुंचे डॉक्टरों ने परिजनों के साथ शव की पहचान करवाने का प्रयास किया, मगर पोस्टमार्टम हाउस में सोनू का शव नहीं मिला। इसके बाद डॉक्टर भी चुपचाप वहां से चले गए। कुछ ही देर बाद सिविल अस्पताल के वरिष्ठ अधिकारी व सीएमओ कार्यालय के कर्मचारी गायब हो गए।

बताया जा रहा है कि शवगृह में कोरोना संक्रमित एक लावारिस व्यक्ति का शव पड़ा था। कर्मचारियों ने सोनू के शव को कोरोना संक्रमित का शव समझ कर उसे नगर निगम कर्मचारियों को कोविड गाइडलाइन के तहत अंतिम संस्कार के लिए सौंप दिया। जब तक इस सारे प्रकरण का पता चलता तब तक अंतिम संस्कार हो चुका था। इस पर परिजनों व पड़ोसियों का गुस्सा सातवें आसमान चढ़ गया और उन्होंने वहां हंगामा करना शुरू कर दिया। पोस्टमार्टम हाऊस से मृतक सोनू का शव गायब होने व हंगामे की सूचना मिलने पर भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। परिजनोें की मांग पर एसजीएम नगर पुलिस ने अस्पताल की पीएमओ, आदर्श नगर थाना पुलिस व पोस्टमार्टम हाउस के प्रभारी डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद ही परिजन शांत हुए।



Next Story