Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नारनौल में घर से खेलने निकला था बच्चा, 11 दिन बाद जयपुर में मिला

जयपुर की एक आई इंडिया संस्था ने शनिवार सुबह बच्चे मोहित के दादा पूर्णचंद के पास फोन करके बच्चा संस्था के कार्यालय में होने की जानकारी दी। इसके बाद बच्चे की फोटो आदि भेजकर बच्चे की शिनाख्त करके पुलिस टीम तुरंत प्रभाव से जयपुर के लिए रवाना हो गई।

नारनौल में घर से खेलने निकला था बच्चा, 11 दिन बाद जयपुर में मिला
X

सिटी एसएचओ कृपाल सिंह के साथ छात्र मोहित।

हरिभूमि न्यूज : नारनौल

गत 16 फरवरी की रात को नारनौल के मोहल्ला पुरानी सराय से लापता हुए करीब 13 वर्षीय मोहित का शनिवार को सुराग लग गया। जयपुर की एक आई इंडिया संस्था ने शनिवार को सुबह दस बजकर 22 मिनट पर बच्चे मोहित के दादा पूर्णचंद के पास फोन करके बच्चा संस्था के कार्यालय में होने की जानकारी दी। संस्था के हरवीर सिंह नाम अधिकारी की कॉल के बाद बच्चे के दादा पूर्णसिंह ने जयपुर से आए फोन के बारे मे तुरंत स्थानीय पुलिस को सूचना दी। इसके बाद बच्चे की फोटो आदि भेजकर बच्चे की शिनाख्त करके पुलिस टीम तुरंत प्रभाव से जयपुर के लिए रवाना हो गई। आई इंडिया संस्था के उक्त अधिकारी हरवीर सिंह के अनुसार नारनौल से पहुंची पुलिस टीम को दोपहर करीब तीन बजे आवश्यक कागाजी कार्रवाई के बाद बच्चा सुपुर्द कर दिया गया है।

हरवीर सिंह ने मोबाइल पर बताया कि बच्चा जयपुर में गलताजी गेट थाना के कर्मचारियों को लावारिस घूमता मिला था। बाद में पुलिस ने बच्चे को चाइल्ड हेल्प लाइन के हवाले कर दिया था। चाइल्ड हेल्प लाइन ने इसे चाइल्ड वेलफेयर के सुपुर्द कर दिया था। उनकी संस्था आई इंडिया को सौंपकर इसके परिजनों का पता लगाने में सहयोग मांगा गया। पिछले दो दिनों तक बच्चे को उसके द्वारा बताए गए स्थानों पर जयपुर में घुमाया गया लेकिन इसके परिवार का पता नहीं चला।

हरवीर सिंह के अनुसार शनिवार उसने खुद बच्चे को अपने पास बैठाकर उसे कागज पैन देकर अपने बारे में कुछ भी लिखने के लिए कहा तो बच्चे ने कागज पर कुछ लिखा और नारनौल शब्द से शहर का नाम पकड़ में आया। इसके बाद बच्चे से स्कूल का नाम व कुछ मोबाइल नंबर भी लिखने के लिए कहा गया। हरवीर सिंह के अनुसार बच्चे ने एक स्कूल का नाम भी लिखा और चार-पांच मोबाइल नंबर भी लिखे। जिनमें एक नंबर उसके दादा का निकला। हरवीर सिंह ने बताया कि बच्चे के दादा को सूचना देने के कुछ देर बाद ही उनके पास नारनौल पुलिस का फोन आ गया था। बच्चे का सुराग लगने पर उनके परिजनों में खुशी का माहौल है।

पुलिस बोली...मर्जी से गया था मोहित

पुलिस पूछताछ में बच्चे मोहित ने बताया कि वह घर से खेलने के लिए निकला था। वह अपनी मर्जी से गया था, उसका किसी ने अपहरण नहीं किया। नारनौल थाना शहर की पुलिस टीम ने बच्चे को जयपुर से बरामद किया है। पुलिस प्रवक्ता सुमित कुमार ने बताया कि नारनौल पुरानी सराय निवासी राजेश ने थाना शहर नारनौल में शिकायत दर्ज कराई कि 16 फरवरी की शाम से उसका बच्चा मोहित घर से लापता है, जिसकी उम्र 13 वर्ष है। 16 फरवरी की शाम को मोहित घर के सामने जागरण में गया था। उसके बाद से अभी तक घर नहीं आया है। हमने बच्चे को आस पड़ोस में तलाश किया, लेकिन बच्चे का कुछ पता नहीं चला। परिजानों ने बच्चे के लापता होने की शिकायत पुलिस से की। इसके बाद पुलिस ने बच्चे की तलाश शुरू कर दी। बच्चे को पुलिस ने जयपुर से सही सलामत बरामद किया है।



Next Story