Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रंजिश के चलते जुलाना के सुरेश की हत्या कर नहर में फैंका था शव

दोनों को शनिवार को अदालत में पेश किया जाएगा। पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि सुरेश ने शराब के नशे में सुरेंद्र के साथ गाली-गलौच की और इस बात का बदला लेने के लिए उसकी हत्या कर शव को नहर में बहा दिया था।

रंजिश के चलते 12वीं के छात्र पर किया चाकू से हमला, आरोपी गिरफ्तार
X

आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

हिसार। पुलिस ने करीब एक सप्ताह पूर्व बालसमंद माइनर बरामद जुलाना की एकता कॉलोनी निवासी सुरेशके ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझा ली है। पुलिस ने रोहतक के गढी मोहल्ला निवासी सुरेन्द्र व जिला जींद के घसोंकलां निवासी शम्मी को पिंडारा जिला जींद से गिरफ्तार किया है।

दोनों को शनिवार को अदालत में पेश किया जाएगा। पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि सुरेश ने शराब के नशे में सुरेंद्र के साथ गाली-गलौच की और इस बात का बदला लेने के लिए उसकी हत्या कर शव को नहर में बहा दिया था।

बता दें कि 13 जनवरी को आधार अस्पताल के पास पुलिस ने बालसमंद माइनर से एक अज्ञात युवक का शव बरामद किया था। मृतक के गाल पर चोट के निशान तथा गले में रस्सी बंधी हुई थी।

पुलिस पूछताछ में आरोपित सुरेंद्र ने बताया कि 2 साल पहले एक शादी में उसकी मुलाकात जुलाना के सुरेश से ही थी, जोकि उसका दूर का रिश्तेदार है। बाद में एक-दूसरे के घर आना-जाना हो गया।

वे एक साथ बैठकर शराब का भी सेवन करते थे। आरोपित सुरेंद्र के अनुसार वर्ष 2021 की शुरुआत में सुरेश एक दिन उसके पास रोहतक आया था, उस दिन हम दोनों ने रोहतक मे कच्चा बेरी रोड पर अहाता में बैठकर शराब पी थी। वापसी पर सुरेश ने शराब के नशा में उसके साथ गाली-गलौच किया। तब तो मैं चुपचाप वहां से आ गया और वह उसके साथ रंजिश रखने लगा। आरोपित ने बताया कि उसने 11 जनवरी को चाकू और 12 जनवरी को रस्सी खरीदी।

उसके बाद बस में बैठकर जींद आ गया। वहां अपने दोस्त शम्मी वासी घसोंकलां के घर गया। वहां से दोनों दोस्त करनाल शादी में गए। वापस आने पर आरोपित सुरेंद्र ने सुरेश को अपने पास बुलाया। शम्मी अपने किसी दोस्त से मिलने चला गया। इस दौरान सुरेंद्र व सुरेश ने एक अहाता पर शराब पी और उसके बाद शम्मी को बुलाकर उसकी गाड़ी में सुरेश को घर छोड़कर आने की बात कही।

शम्मी गाड़ी चला रहा था। आरोपित सुरेंद्र ने पूछताछ में स्वीकार किया कि उसने पीछे सुरेश के गले में रस्सी डालकर उसका गला दबा दिया। सुरेश को होश नहीं था, इसलिए वह विरोध नहीं कर सका। शम्मी ने कहा यह क्या कर रहा है। इस पर मैंने कहा रंजिश थी और उसे मार दिया। उसके नरवाना की नहर में सुरेश की लाश को फैंक दिया। सुरेश के मोबाइल तथा सिम को भी तोड़ दिया।



Next Story