Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सतर्क रहें : गीजर की गैस चढ़ने से मंदिर सेवक की मौत

वेदप्रकाश नहाने के लिए मंदिर में बने गैस गीजर वाले बाथरूम में नहाने गया था। नहाते समय बाथरूम में गैस बनने से वेदप्रकाश बेहोश हो गया। करीब एक घंटे तक दम घुटने से उसकी मौत हो गई।

गीजर की गैस चढ़ने से 21 साल के लड़के की बाथरूम में ही मौत
X

गीजर की गैस चढ़ने से मौत

हरिभूमि न्यूज : नारनौल

गांव नांगल काठा में निहलाईनाथजी के मंदिर में बने बाथरूम में शनिवार सुबह नहाने गए 40 वर्षीय सेवक की दम घुटने से मौत हो गई। करीब एक घंटे बाद मंदिर में मौजूद दूसरे लोगों को इसकी जानकारी लगी। जानकारी लगने पर उसे अचेत अवस्था में उपचार के लिए उसे नागरिक अस्पताल लेकर आए। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। जानकारी के अनुसार गांव नांगल काठा स्थित बाबा निहलाईनाथजी के मंदिर में गांव का युवक वेदप्रकाश बतौर सेवक पूजा आदि का कार्य करता था।वेदप्रकाश शनिवार सुबह पूजा करने से पहले नहाने के लिए मंदिर में बने गैस गीजर वाले बाथरूम में नहाने गया था।

नहाते समय बाथरूम में गैस बनने से वेदप्रकाश बेहोश हो गया। करीब एक घंटे तक बाथरूम में बेहोश अवस्था में पड़ा रहने के कारण दम घुटने से उसकी मौत हो गई।जब 1 घंटे तक वह बाथरूम से बाहर नहीं आया तो एक व्यक्ति ने बाथरुम में जाकर देखा तो वेदप्रकाश अचेत अवस्था में पड़ा था। इसके बाद उसे नागरिक अस्पताल ले गए। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। चिकित्सकों के अनुसार दम घुटने से वेदप्रकाश की मौत हुई है। सूचना मिलने पर पुलिस ने अस्पताल में पहुंचकर आवश्यक कागजी कार्रवाई कर शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने परिजनों के बयान पर इत्तफाकिया घटना की कार्रवाई की हैं।

Next Story