Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भाजपा किसान मोर्चा की प्रदेश टीम का गठन, जमीन से जुड़े इन चेहरों को मिली जगह

टीम में 51 प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य, 70 विशेष आमंत्रित सदस्य लिए हैं। जबकि कृषि मंत्री, सिंचाई मंत्री, सहकारिता मंत्री, कृषि मंत्रालय के सभी चेयरमैन, मार्किट कमेटी और बोर्ड के चेयरमैन, मोर्चा के सभी पूर्व अध्यक्ष, सभी पूर्व कृषि मंत्रियों को भी स्थाई आमंत्रित सदस्य बनाया गया है।

भाजपा किसान मोर्चा की प्रदेश टीम का गठन, जमीन से जुड़े इन चेहरों को मिली जगह
X
भाजपा किसान मोर्चा की टीम का गठन।

चंडीगढ़। भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष सुखविंदर श्योराण ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल, प्रदेश प्रभारी विनोद तावड़े, प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़, मोर्चा के प्रभारी महिपाल ढांडा और सह प्रभारी हरपाल की सहमति मिलने के बाद सोमवार को अपनी टीम की घोषणा कर दी। श्योराण ने अपनी टीम में खेती से जुड़े चेहरों को ही ज्यादा तरजीह दी है।

टीम में 6 उपाध्यक्ष बनाए गए हैं और ये सभी छह के छह न केवल सीधे खेती से जुड़े हैं बल्कि किसानों की समस्याओं और जरूरतों को भी समझते हैं। उपाध्यक्ष अतर सिंह संधु भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता रह चुके हैं और भारतीय किसान यूनियन (ए) चलाकर किसानों की समस्याओं को उठाने का कार्य करते रहे हैं। उत्तराखंड जैसे राज्य में भी किसानों के हित के लिए लड़ते रहे हैं। ऋषि पाल गुर्जर की पत्नी समालखा से चुनाव लड़ चुकी हैं और खुद ऋषि सामाजिक कार्य में सदा सक्रिय रहते हुए किसानों के लिए लड़ते रहे हैं। सत्येंद्र न्योली आदमपुर से चुनाव लड़ चुके हैं और पिछले कई सालों से किसानों के बीच रहकर उनकी आवाज बनते रहे हैं। दिलबाग मलिक पोल्ट्री फार्म चलाते हैं जबकि सतीश राणा खुद कृषक हैं। फिलहाल प्रदेश उपाध्यक्ष बने सरदार मनदीप पूर्व में किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष रह चुके हैं और खेती से जुड़े हैं।

इसके अलावा सोहनपाल छोकर और राजेंद्र संधु को मोर्चा के प्रदेश महामंत्री का दायित्व दिया गया है। सोहनपाल पृथला विधानसभा से चुनाव लड़ चुके हैं और फरीदाबाद में जिला महामंत्री के दायित्व पर रह चुके हैं। जबकि संधु कृषक समाज से ही आते हैं। मोर्चा में 6 मंत्री पद बनाए गए हैं। जिसमें कैथल के बलकार गोलन, यमुनानगर के जसविंदर, हिसार से कृष्ण सरसाना, सोनीपत से प्रवीण खत्री, रेवाड़ी से सतीश यादव, रोहतक से तकदीर खरखडा आदि मूल रूप से किसान ही हैं और राजनीति से जुड़ कर कृषक समाज के लिए काम करते रहे हैं।

इतना ही नहीं प्रदेश के तीनों पद्मश्री किसानों को अति विशेष आमंत्रित सदस्यों के रूप में मांढी ने अपनी टीम में रखा है। जबकि कृषि मंत्री, सिंचाई मंत्री, सहकारिता मंत्री, कृषि मंत्रालय के सभी चेयरमैन, मार्किट कमेटी और बोर्ड के चेयरमैन, मोर्चा के सभी पूर्व अध्यक्ष, सभी पूर्व कृषि मंत्रियों को भी स्थाई आमंत्रित सदस्य बनाया गया है। इस लिहाज से भी किसान मोर्चा की यह टीम और महत्वपूर्ण हो जाती है, क्योंकि खुद भाजपा के वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ खुद भी किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं। खुद ओमप्रकाश धनखड़ ने नई टीम में लिए गए लोगों के काम की समीक्षा की है और इसके बाद ही नई टीम को हरी झंड़ी दी है। बेहतर टीम चुनने के लिए धनखड़ ने सुखविंदर श्योराण को बधाई भी दी है।

सुखविंदर की टीम में 51 प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य, 70 विशेष आमंत्रित सदस्य लिए हैं। किसान मोर्चा की इस प्रदेश टीम में एक खासियत यह भी है कि आईटी एवं सोशल मीडिया प्रमुख गुरुग्राम के विजय कुमार को बनाया गया है, जो कि पहले भी प्रदेश की सोशल मीडिया टीम में सह संयोजक रह चुके हैं। इसी तरह दादरी के नरेंद्र कुमार को मीडिया प्रमुख नियुक्त किया है।

मोर्चा के अध्यक्ष ने सभी 22 जिलों में मोर्चा के प्रभारियों के नाम की घोषणा भी कर दी है। सुखविंदर ने बताया कि फिलहाल मोर्चा की प्रदेश टीम में 153 लोगों के नाम हैं और अधिकांश किसान हितों के लिए काम करने वाले कार्यकर्ताओं को ही इसमें जगह दी गई है। मोर्चा अध्यक्ष ने बताया कि मोर्चा का गठन करते समय प्रदेश के हर जाति वर्ग का पूरा ध्यान रखा गया। सुखविंदर ने कहा कि सबका साथ- सबका विकास की तर्ज पर मोर्चा में सब समाज को साथ लिया गया है।

Next Story