Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दक्षिण पश्चिमी मानसून हवाओं ने बदला रूख, 4 जुलाई से बारिश की संभावना

मानसूनी (Monsoon) हवाएं फिर से मैदानी क्षेत्रों की तरफ बढ़ने की संभावना बन रही है, जिससे राज्य (state) में उत्तर पूर्व व दक्षिण हरियाणा में सोमवार रात से 3 जुलाई के बीच आंशिक बादल बनने की संभावना है।

Mausam Ki Jankari: राजस्थान में 25 जून को मानसून की एंट्री के आसार, आंधी और बारिश से मौसम हुआ सुहावनाप्रतीकात्मक फोटो

हिसार।

दक्षिण पश्चिमी मानसूनी हवाओं का टर्फ 27 जून से हिमालय (Himalaya) की तलहटीयों व उत्तर पूर्व भारत की तरफ चले जाने से हरियाणा में मानूसनी हवाएं कमजोर हो गई, जिससे पिछले तीन दिनों से मौसम गर्म व खुश्क हो गया है। चौधरी चरणसिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में कृषि मौसम विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ मदन खीचड़ ने बताया कि तापमान (Temperature) सामान्य से अधिक हो गया परन्तु अब मानसूनी टर्फ में कुछ बदलाव की संभावना बन रही है।

उन्होंने बताया कि एक साइक्लोनिक सरकुलेशन सिस्टम पूर्वी उत्तरप्रदेश में बना तथा साथ ही एक अन्य साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम मध्य पाकिस्तान में बना हुआ जिससे मानसूनी हवाएं फिर से मैदानी क्षेत्रों की तरफ बढ़ने की संभावना बन रही है, जिससे राज्य में उत्तर पूर्व व दक्षिण हरियाणा में सोमवार रात से 3 जुलाई के बीच आंशिक बादल व हवाओं के साथ कहीं कहीं बीच बीच में हल्की बारिश हो सकती है लेकिन पश्चिमी हरियाणा में मौसम परिवर्तनशील रहेगा।

साथ ही बीच बीच में आंशिक बादल व कुछ एक स्थानों पर बूंदाबांदी या हल्की बारिश की संभावना है परन्तु 4 जुलाई से राज्य के सभी क्षेत्रों में अच्छी बारिश की संभावना लग रही है।

Next Story
Top