Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Sonipat : नाबालिग से मंदिर में शादी कर रहा था युवक, रुकवाई

बाल संरक्षण विभाग (Child Protection Department) की टीम जब मंदिर में पहुंची तो लड़का-लड़की से आयु प्रमाण पत्र (Age certificate) मांगा तो कोई भी दस्तावेज पेश नहीं कर सकें, जिसके बाद टीम ने शादी रूकवा दी।

Sonipat :  नाबालिग से मंदिर में शादी कर रहा था युवक, रुकवाई

सोनीपत। शहर के हलवाई हट्टा क्षेत्र स्थित मंदिर में नाबालिग (Minor) की शादी कराने की सूचना के बाद पहुंची महिला एवं बाल सरंक्षण अधिकारी ने शादी को रुकवा दिया। लडक़ी के परिजनों से लिखित में लिया गया है कि वह उसके बालिग होने का प्रमाण पत्र देने के बाद ही उसकी शादी करें, जिसके बाद शादी (wedding) को रोक दिया गया।

सोनीपत को एसपी कार्यालय में सूचना मिली थी कि हलवाई हट्टा के मंदिर में नाबालिग की शादी कराई जा रही है, जिस पर एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने महिला एवं बाल सरंक्षण अधिकारी भानू गौड़ को कार्रवाई के निर्देश दिए। जिस पर महिला एवं बाल सरंक्षण अधिकारी अपनी टीम के साथ मंदिर में पहुंची। वहां भिवानी के रहने वाले युवक की सोनीपत की लडक़ी से शादी की तैयारी चल रही थी। वहां पर टीम को युवक के परिजन नहीं मिले।

लडक़ी अपने परिजनों के साथ आई थी। जब टीम ने उनसे दोनों के आयु प्रमाण पत्र दिखाने को कहा तो वह कोई प्रमाण नहीं दे सके। हालांकि वह कहते रहे कि लडक़ी की आयु 19 वर्ष है। टीम ने दोनों के आयु प्रमाण पत्र देने के बाद ही शादी कराने को कहा। लडक़ी नौवीं कक्षा तक पढ़ी गई है। टीम ने लडक़ी के परिजनों से कहा दोनों के आयु प्रमाण पत्र मिलने के बाद ही उनकी शादी की जाए। शादी रुकवाने के बाद लिखित में लेकर टीम लौट आई। भानू गौड़ ने कहा कि परिजनों को स्वयं भी किसी नाबालिग की शादी नहीं करनी चाहिए।

Next Story
Top