Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्नेचरों का आतंक : लैब सहायिका और शिक्षिका के गले से तोड़ ले गए चेन

दोनों पीड़ित महिलाओं का आरोप है कि झपटमारों की बाइक सफेद रंग की थी। दोनों युवक चेहरे पर मास्क लगाए थे और आगे बैठे युवक ने हेलमेट भी लगा रखा था।

बंदूक की दम पर घर के बाहर बाइक सवार से चैन स्नैचिंग, बचाने आए पड़ोसियों को भी डराया
X
स्नैचिंग (प्रतीकात्मक फोटो)

हरिभूमि न्यूज. सोनीपत

शहर में बेखौफ बाइक सवार बदमाशों के आंतक ने महिला कर्मचारी व अन्य के अंदर भय का माहौल बना दिया है। बेखौफ झपटमारों ने स्कूल की शिक्षिका के गले से सोने की चेन झपट ली। पीड़िता ने मामले को लेकर पुलिस को शिकायत दी है। वहीं टीकाराम गर्ल्ज कॉलेज में लैब सहायिका के गले से भी चैन झपटने का मामला सामने आया है। पुलिस जल्द बाइक सवार बदमाशों को पकड़ने का राग अलाप रही है। जबकि वारदातों ने महिलाओं के अंदर भय का माहौल बना दिया हैं।

पहला मामला-

नई बस्ती बंदेपुर की रहने वाली बेबी मलिक ने पुलिस को शिकायत देकर बताया कि वह एक निजी स्कूल में शिक्षिका है। वह सुबह घर से स्कूल जाने के लिए निकली थी। जब वह पटेल नगर में शिव मंदिर के पास पहुंची तो इसी दौरान सफेद रंग की अपाचे बाइक सवार दो युवक आए और उसके गले से सोने की चेन झपटकर फरार हो गए। मामले को लेकर परिजनों को अवगत करवाया। उसके बाद पुलिस को शिकायत दी। सिविल लाइन थाना पुलिस ने केस दर्ज किया है।

दूसरा मामला

शहर की इंडियन कालोनी की रहने वाली पूनम कुमारी ने बताया वह टीकाराम कन्या महाविद्यालय में लैब सहायिका के पद पर कार्यरत हैं। हर रोज की तरह बुधवार सुबह कॉलेज जाने के लिए मिशन रोड पर जा रही थी। जब वह मिनीलैंड स्कूल के पास पहुंची तो इसी दौरान पीछे से बाइक सवार दो युवक आए और उन्होंने उसके पास आकर उसे धक्का दे दिया। धक्का देते ही पीछे बैठे युवक ने उसके गले से सोने की चेन झपट ली और फरार हो गए। लैब सहायिका ने बताया कि बाइक सफेद रंग की थी। मामले को लेकर शहर थाना पुलिस ने में शिकायत दी।

मास्क व हेलमेट के चलते नहीं हो सकी पहचान

दोनों पीड़ित महिलाओं का आरोप है कि झपटमारों की बाइक सफेद रंग की थी। दोनों युवक चेहरे पर मास्क लगाए थे और आगे बैठे युवक ने हेलमेट भी लगा रखा था। हालांकि दोनों महिलाओं ने वारदात का समय सुबह करीब 8 बजकर 40 मिनट बताया है। पुलिस क्षेत्र में लगे सीसीटीवी खंगाल रही है। जिससे बाइक का नंबर पता लगाने के साथ ही जानकारी जुटाई जा सके कि दोनों वारदात एक ही गिरोह ने अंजाम दी है या अलग गिरोह ने की है।


Next Story