Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गायक ने किया विधायक का गुणगान तो लोगों में जमकर चले लाठी- डंडे, की गई फायरिंग

झगड़े में एक पक्ष के चार तो दूसरे पक्ष के तीन लोग घायल हो गए। घायलों को सामान्य अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पिल्लूखेड़ा थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गायक ने किया विधायक का गुणगान तो लोगों में जमकर चले लाठी- डंडे, की गई फायरिंग
X

घायल सरपंच पक्ष के लोगों को अस्पताल लाते परिजन और अस्पताल पहुंचने पर दूसरे पक्ष के घायलों से बातचीत करती पुलिस।

हरिभूमि न्यूज. जींद

गांव सिवाहा में आयोजित भंडारे में विधायक के शामिल होने तथा गायक द्वारा विधायक का गुणगान करने पर दो पक्षों के लोग आपस में भिड़ गए। बताया जाता है कि एक पक्ष द्वारा फायरिंग भी की गई। झगड़े में एक पक्ष के चार तो दूसरे पक्ष के तीन लोग घायल हो गए। घायलों को सामान्य अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पिल्लूखेड़ा थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गांव सिवाहा के सरपंच वेदपाल पक्ष तथा देवी सिंह पक्ष के लोग बुधवार शाम को पिल्लूखेड़ा तथा गांव सिवाहा के बीच आपस में भिड़ गए। इस दौरान दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई। यहां तक की गोली भी चलाई गई। जिसमे सरपंच वेदपाल पक्ष के अशोक, कुलविंद्र, राहुल तथा सतीश को चोटे आई। अशोक के कान पर छर्रे लगे हुए थे। जबकि राहुल की टांग टूटी हुई थी। जबकि दूसरे पक्ष के देवी सिंह, सचिन तथा रौनक को चोटे आई। दोनों पक्षों के लोगों को सामान्य अस्पताल लाया गया। घटना की सूचना पाकर सिविल लाइन थाना प्रभारी राजेंद्र सिंह पुलिस बल के साथ सामान्य अस्पताल पहुंचे और इलाज होने तक लगातार नजर बनाए रखी।

बाद में पिल्लूखेड़ा थाना पुलिस भी सामान्य अस्पताल पहुंची और हालातों का जायजा लिया। गांव के सरपंच वेदपाल ने बताया कि उसका भाई अशोक पिल्लूखेड़ा मंडी में आढ़त का कार्य करता है। शाम को अशोक व उसके परिवार के लोग मंडी से गांव लौट रहे थे। दोनों गांव के बीच पहले से घात लगाए बैठे काला ठेकेदार व अन्य लोगों ने उन पर हमला कर दिया। जिसमे उनके परिवार के चार लोग घायल हो गए। बाद में डीएसपी पुष्पा खत्री मौके पर पहुंची और हालातों का जायजा लिया। बाद में वे सामान्य अस्पताल भी पहुंची।

सीमा को लेकर बना रहा संशय, देरी से पहुंची पुलिस

जिस स्थान पर झगड़ा हुआ उसके साथ सदर थाना तथा पिल्लूखेड़ा थाना पुलिस की सीमा लगती है। काफी देर तक दोनों थाना की सीमाओं को लेकर संशय बना रहा। सदर थाना पुलिस पिल्लूखेड़ा थाना सीमा का मामला बताती रही, जबकि पिल्लूखेड़ा थाना पुलिस सदर थाना इलाके का। आखिरकार बारिकी से जानकारी जुटाने के बाद पिल्लूखेड़ा थाना पुलिस को सूचना दी गई। हालांकि घायलों के सामान्य अस्पताल पहुंचने की सूचना के साथ ही सिविल लाइन थाना प्रभारी राजेंद्र सिंह जरूर पुलिस बल के साथ पहुंचे और इलाज होने तक सामान्य अस्पताल में मौजूद रहे।

27 फरवरी को गांव में भंडारा लगाया था

सरपंच वेदपाल ने बताया कि गत 27 फरवरी को गांव में दादा खेड़ा का भंडारा लगाया गया था। जिसमे विधायक अमरजीत ढांडा भी पहुंचे थे। गायक ने उनका गुणगान कर दिया, जिससे काला ठेकेदार व उसके साथी खफा थे। मामले को किसान आंदोलन से जोड़कर देखा जा रहा है। जिसमे सत्ता पक्ष के लोगों को कार्यक्रम में न बुलाने का आह्वान किया गया है। दूसरे पक्ष के देवी सिंह ने बताया कि सरपंच पक्ष के लोगों ने उन पर रास्ते में हमला किया है। जिसमे उनके पक्ष के तीन लोगों को चोटे आई हैं। फिलहाल पिल्लूखेड़ा थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है। पिल्लूखेड़ा थाना प्रभारी छत्रपाल ने बताया कि फिलहाल दोनों पक्षों के लोगों से पूछताछ की जा रही है। पूछताछ के बाद ही तथ्य सामने आएंगे। जिसके आधार पर आगामी कार्रवाई की जाएगी।

Next Story