Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्कीमों का सत्यापन करने के बाद ही खरीदारी करें, जानें क्यों

लोगों को चाहिए की ऑनलाइन शॉपिंग(Online Shopping) के दौरान थोड़ा सा सजग रहें। क्योंकि सैकड़ों किलोमीटर दूर बैठे साइबर ठगों (Cyber ​​thugs) की नजर उन पर है। एक छोटी सी गलती में वह मिनटों में पूरा खाता साफ करने का काम कर रहे हैं। साइबर ठगों ने अकाउंट साफ करने के लिए पूरा जाल बिछा रखा है।

shopping)
X

हरिभूमि न्यूज : बहादुरगढ़

त्योहारी सीजन पूरी तरह से शुरू हो गया है। बाजार (Market) भी उसी के मुताबिक तैयार हो गया है। व्यापारियों ने दुकानों को दुल्हन की तरह ग्राहकों (Customers) के लिए सजा रखा है। जबकि कंपनियों ने इस त्योहार (Festival) को भुनाने के लिए तरह-तरह के ऑफर भी देने शुरू कर दिए हैं। वहीं कोरोना(Corona) से बचाव के लिए लोग घरों में ही बैठकर ऑनलाइन खरीदारी (online shopping) कर रहे हैं। ग्राहकों को ऑनलाइन के साथ ही ऑफलाइन भी अच्छी-अच्छी स्कीमें दी जा रही हैं। जरूरत के मुताबिक सभी खरीदारी भी कर रहे हैं।

ऐसे में ऑनलाइन खरीदारी करते समय थोड़ा सा बचाव की जरूरत है। लोगों को चाहिए की ऑनलाइन शॉपिंग के दौरान थोड़ा सा सजग रहें। क्योंकि सैकड़ों किलोमीटर दूर बैठे साइबर ठगों की नजर उन पर है। एक छोटी सी गलती में वह मिनटों में पूरा खाता साफ करने का काम कर रहे हैं। साइबर ठगों ने अकाउंट साफ करने के लिए पूरा जाल बिछा रखा है। छोटी सी एक गलती न केवल त्योहार की खुशियों को फीका करेंगी, बल्कि आर्थिक चोट भी देगी। इसके लिए जरूरी है कि जालसाजों द्वारा दी जा रही स्कीमों का सत्यापन जरूर कर लें और किसी प्रकार के झांसे में आने से बचे।

साइबर एक्सपर्ट दीपक सैनी के अनुसार साइबर ठगों से बचाव के लिए जागरूक रहना ही बचाव है। बैंक कभी अपने किसी भी ग्राहक से फोन पर किसी प्रकार की जानकारी नहीं लेती है। बैंक अपने ग्राहक को सीधा ब्रांच में आकर संपर्क करने को बोलती है। फेक संदेश व कॉल आदि से जागरूक रहने की जरूरत है।

इन बातों का रखें ध्यान

- अकाउंट डिटेल अपडेट करने या लॉटरी लगने का झांसा से बचे। इस प्रकार के मेल व मैसेज को भी करें नजरअंदाज।

- समय-समय पर अपने पासवर्ड को बदलते रहें। अपने सर्च इंजन के एड्रेस बार में यूआरएल टाइप करके ही वेबसाइट तक पहुंचे।

- ऑनलाइन बैंकिंग के लिए कोई भी एप डाउनलोड करने से पहले अपने बैंक से संपर्क कर उसकी वास्तविकता की जांच करें।

- फोन पर किसी को भी अपनी व्यक्तिगत जानकारी, एटीएम पासवर्ड, सीवीवी नंबर या ओटीपी की जानकारी न दें।

Next Story