Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिजली का बिल 47 लाख के ऊपर देखकर उपभोक्ता को लगा झटका

गांव किलोई निवासी नरेश कुमार ने बताया कि रोहतक स्थित जींद बाईपास पर आरा मशीन लगा रखी है। सब डिवीजन नंबर तीन से कनेक्शन ले रखा है। बिजली निगम ने उनके घर का एक महीनों का 47 लाख 74 हजार 938 रुपये का बिल भेज दिया है।

बिजली बिल का बकाया 1300 करोड, वसूली में छूट रहा पसीना
X
बिजली (प्रतीकात्मक तस्वीर)

हरिभूमि न्यूज : रोहतक

बिजली निगम की लापरवाही सामने आई है। निगम ने एक आरा मशीन उपभोक्ता का एक महीना का बिजली का बिल 47 लाख 74 हजार 938 रुपये का बिजली का बिल भेजा है। बिल देखकर बिजली उपभोक्ता का परिवार सदमे में आ गया है। अब उपभोक्ता ने बिजली निगम में चक्कर काट रहा है, लेकिन कोई उसको सुनने तक तैयार नहीं है।

गांव किलोई निवासी नरेश कुमार ने बताया कि रोहतक स्थित जींद बाईपास पर आरा मशीन लगा रखी है। सब डिवीजन नंबर तीन से कनेक्शन ले रखा है। बिजली निगम ने उनके घर का एक महीनों का 47 लाख 74 हजार 938 रुपये का बिल भेज दिया है।

बृहस्पतिवार को विद्युत निगम कार्यालय में पहुंचा, शिकायत अधिकारियों को की। इस पर निगम अधिकारियों ने बिल की जांच करते हुए बिल में तकनीकी गलती होने की बात कहते हुए इसे दुरुस्त करने का आश्वासन दिया। अधिकारियों ने उसे एक माह में हुई वास्तविक बिजली खपत की एवज में हजार रुपये के बिल राशि बताई।

नरेश कुमार ने बताया कि पिछले महीने ही उन्होंने बिजली का बिल भरा था, लेकिन इस बार इतना ज्यादा बिल देखकर वो परेशान हैं। कई बार बिजली निगम के चक्कर लगा चुके हैं, लेकिन कोई अधिकारी बिल को ठीक करने के लिए तैयार नहीं है।

कम्प्यूटर में गलती से हुआ : एसडीओ

कंप्यूटर में गलती के कारण बिल गलत बन जाते हैं। जिसे दुरुस्त कर दिया जाएगा। उपभोक्ता से खपत बिजली मुताबिक वास्तविक बिल राशि ही करवाया जाएगा।- सुरेंद्र सिंह, एसडीओ-3

Next Story