Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रोहतक में स्कूटी सवार आढ़ती की गोली मारकर हत्या, दर्शन के लिए मंदिर जा रहा था

सूचना मिलने पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची, जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। आढ़ती अपने हाथ में करीब चार तोले सोने का कड़ा पहनता था, जो गायब मिला। परिजनों की तरफ से भी अभी बयान दर्ज नहीं कराए गए हैं।

रोहतक में स्कूटी सवार आढ़ती की गोली मारकर हत्या, दर्शन के लिए मंदिर जा रहा था
X

पुलिस मौके पर पहुंची।

हरिभूमि न्यूज : रोहतक

अपराधियों के मन से कानून का खौफ निकल गया है। फरवरी माह में विक्की पंडित की हत्या से शुरू हुई वारदातों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। अपराधी बेखौफ होकर एक के बाद एक वारदातों को अंजाम देते जा रहे हैं। वीरवार को भी कुछ ऐसा ही हुआ। बदमाशाें ने खेड़ी साध से खरावड़ जा रहे आढ़ती की सरेआम सड़क पर गोली मार दी गई। रोहतक के संत नगर निवासी 52 वर्षीय आढ़ती अजय तायल की जुलाना मंडी में दुकान है। वह सप्ताह में दो तीन बार ही दुकान पर जाते हैं। वह हर वीरवार को साई मंदिर खरावड़ में माथा टेकने जाते थे। वीरवार सुबह नौ बजे पर इलैक्ट्रिक स्कूटी पर अकेले ही साई मंदिर के लिए निकले थे। वह खेड़ी साध गांव के बीच से दिल्ली की ओर पहुंचे तो पुल से पहले उनकी बदमाशों ने उन पर तीन गोलियां चलाई। दो गोली सिर में तो एक छाती में लगी। जिससे अजय तायल की मौत हो गई। वारदात को रेकी कर अंजाम दिया गया। पुलिस मामले को रंजिश से जोड़कर देख रही है। शुरूआती जांच में लूट का शक था लेकिन उनका सोने का कड़ा, नगदी और मोबाइल उनके पास से ही बरामद हुए। एसपी राहुल शर्मा ने एएसपी नरेंद्र कादयान के नेतृत्व में तीन टीमें गठित की हैं। बदमाश सीसीटीवी में कैद हुए हैं। जिसके आधार पर उनकी तलाश की जा रही है।

चाचा ने लिया था गोद

परिजनों ने बताया कि अजय 2006 में परिवार के साथ संत नगर में किराये के मकान में आकर रहने लगा। उसे उसके चाचा ने गोद लिया हुआ था। अजय के पास दो बेटे और एक बेटी है। बड़ा बेटा और बेटी शादीशुदा हैं। बड़ा बेटा श्याम बहादुरगढ़ में गारमेंटस का शौरूम चलाता है। वह तीन साल से बहादुरगढ़ में ही रह रहा है। वह कभी कभार रोहतक आता रहता है। इसके अलावा शिवम का छोटा भाई ओम पढ़ाई करता है। ओम अपनी बीमार मां की भी देखभाल करता रहता है।

बदमाश सीसीटीवी में कैद

मामले की गहनता से जांच पड़ताल की जा रही है। बदमाश सीसीटीवी में कैद हुए हैं। आरोपितों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। अभी हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है। -एएसपी नरेंद्र कादयान

Next Story