Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रोहतक में बर्खास्त पुलिस कर्मी का अपहरण कर हत्या

महम खेड़ी का रहने वाला वीरेंद्र कोर्ट में किसी काम से आया हुआ था। बताया जा रहा है कि वह इन दिनों बर्खास्त चल रहा है। सुबह 9 बजे जब वह कोर्ट में पीछे चाय की दुकान के पास था तो 6-7 लोग आए और उसे गाड़ी में अपहरण करके ले गए और इसके बाद करीब 5 घण्टे बाद 1 बजे वीरेंद्र का शव जींद रोड पर पुल के नीचे सुनसान जगह पड़ा मिला।

रोहतक में बर्खास्त पुलिस कर्मी का अपहरण कर हत्या
X

रोहतक। कोर्ट (Court) से सुबह बर्खास्त पुलिस कर्मी का अपहरण कर हत्या (Murder) कर दी गई। अपहरण के कुछ देर बाद ही शव जींद रोड से हिसार बाईपास की और जाने वाले रास्ते पर बनाये गए पुल के नीचे मिला है। पुलिस कर्मी का गला दबाया गया है, और गाड़ी से कुलचने के निशान भी हैं। पुलिस कर्मी गांव महम खेड़ी का रहने वाला है। परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने समय पर कारवाई नहीं की इसलिए हत्यारे मर्डर करने में कामयाब रहे। हत्या का आरोप गांव के ही लोगों पर है।

जानकारी अनुसार महम खेड़ी का रहने वाला वीरेंद्र कोर्ट में किसी काम से आया हुआ था। बताया जा रहा है कि वह इन दिनों बर्खास्त चल रहा है। सुबह 9 बजे जब वह कोर्ट में पीछे चाय की दुकान के पास था तो 6-7 लोग आए और उसे गाड़ी में अपहरण करके ले गए। इस दौरान पुलिस कर्मी मदद के लिए चिल्लाया लेकिन किसी ने सहायता नहीं की। इसके बाद वीरेंद्र का फोन बंद हो गया। परिजनों ने फोन स्विच आने पर पुलिस को अनहोनी की आशंका जताई। करीब 5 घण्टे बाद 1 बजे वीरेंद्र का शव जींद रोड पर पुल के नीचे सुनसान जगह पड़ा मिला। एक राहगीर ने इसे देखा तो सूचना पुलिस को दी। प्रथम दृष्टि में सामने आया है कि वीरेंद्र का गला दबाकर हत्या की गई है और गाड़ी से भी कुचला गया है।

और पढ़ें
Next Story